home page

आचार संहिता के बाद बोर्ड टॉपर्स को सरकार कर सकती है सम्मानित, भव्य आयोजन के साथ दे सकती है नगद इनाम

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने एक बार फिर शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्रों को सम्मानित करने का निर्णय लिया है। 10वीं और 12वीं कक्षा के टॉपर्स को नकद पुरस्कार देकर प्रोत्साहित किया जाएगा।
 | 
board-toppers-sai-government-will-organize-grand-event
   
WhatsApp Group Join Now

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने एक बार फिर शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्रों को सम्मानित करने का निर्णय लिया है। 10वीं और 12वीं कक्षा के टॉपर्स को नकद पुरस्कार देकर प्रोत्साहित किया जाएगा। सरकार द्वारा हर टॉपर छात्र-छात्रा को कम से कम 1.50 लाख रुपये की ईनामी राशि दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ राज्य के टॉपर्स को इस सम्मान के लिए बधाई और भविष्य के लिए शुभकामनाएं। उनकी मेहनत और समर्पण ने न केवल उनके परिवार और स्कूल का नाम रोशन किया है बल्कि पूरे राज्य का गौरव बढ़ाया है।

सरकार की परंपरा प्रतिभाओं का सम्मान

छत्तीसगढ़ सरकार ने पिछले कई वर्षों से मेधावी छात्रों को सम्मानित करने की परंपरा बनाई है। हर साल सरकार प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने के लिए विभिन्न योजनाओं के तहत नकद पुरस्कार और अन्य लाभ प्रदान करती है। 2019 तक टॉपर्स को 1.25 लाख रुपये के साथ लैपटॉप दिया जाता था।

लेकिन 2021 में इसमें बदलाव किया गया और लैपटॉप के स्थान पर 25,000 रुपये नकद दिए जाने लगे। इस साल भी सरकार द्वारा जल्द ही टॉपर्स के सम्मान की तारीख का ऐलान किया जाएगा।

10वीं कक्षा के टॉपर्स

इस साल, 10वीं कक्षा के टॉपर्स ने अपने अच्छा प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है। सिमरन शब्बा (जशपुर) ने 99.50% अंक प्राप्त कर सबसे पहले स्थान हासिल किया। इसके बाद होनिशा (गरियाबंद) 98.83%, श्रेयांश कुमार यादव (जशपुर) 98.33% और राहुल गंजीर (बालोद) 98.17% अंक के साथ शीर्ष पर रहे।

अन्य टॉपर्स में डाली साहू, अनिष्का सिंह ठाकुर, अर्पिता कुजुर और पद्मिनी शांडिल्य शामिल हैं। जिन्होंने सभी ने 98% या उससे अधिक अंक प्राप्त किए हैं।

12वीं कक्षा के टॉपर्स

12वीं कक्षा के टॉपर्स ने भी अपनी मेहनत और लगन से बेहतरीन प्रदर्शन किया है। महक अग्रवाल (महासमुंद) ने 97.40% अंक प्राप्त कर पहला स्थान हासिल किया। कोपल अम्बस्ट (बलौदा बाजार) ने 97% और प्रीति (बलौदा बाजार) ने 96.80% अंक प्राप्त किए।

आयुषी गुप्ता (जशपुर), समीर कुमार (धमतरी) और हर्षवती (बालोद) ने भी 96% से अधिक अंक प्राप्त कर अपने नाम को शीर्ष पर दर्ज कराया है।

छात्रों प्रोत्साहन के लिए नकद पुरस्कार

राज्य सरकार द्वारा टॉपर्स को दिए जाने वाले नकद पुरस्कार का मुख्य उद्देश्य उन्हें प्रोत्साहित करना और उनकी मेहनत को पहचान दिलाना है। 1.50 लाख रुपये की राशि छात्रों के भविष्य के लिए एक मजबूत आधार तैयार करने में मदद करेगी। इससे न केवल छात्रों को बल्कि उनके माता-पिता और शिक्षकों को भी गर्व महसूस होता है।

राज्य सरकार की नई पहल

छत्तीसगढ़ सरकार की यह पहल शिक्षा के प्रति जागरूकता बढ़ाने और छात्रों को अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करने का एक महत्वपूर्ण कदम है। यह सुनिश्चित करता है कि छात्रों को उनकी मेहनत का सही पुरस्कार मिले और वे भविष्य में और बेहतर करने के लिए प्रेरित हों। शिक्षा में निवेश किसी भी समाज के विकास का प्रमुख हिस्सा होता है और छत्तीसगढ़ सरकार इस दिशा में अच्छा कार्य कर रही है।

क्या होगी समारोह की तारीख

आचार संहिता समाप्त होने के बाद राज्य सरकार टॉपर्स के सम्मान समारोह की तारीख की घोषणा करेगी। इस समारोह में राज्य के शीर्ष अधिकारी शिक्षा मंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहेंगे। यह कार्यक्रम न केवल टॉपर्स के लिए बल्कि पूरे राज्य के छात्रों के लिए प्रेरणा स्रोत बनेगा।