home page

मानसून के मौसम में AC को कितने नंबर पर चलाना चाहिए, पढ़े लिखे लोग भी नही जानते ये छोटी सी बात

 | 
ac-using-tips-at-which-temperature
   

पिछले कुछ महीनों में भारत के कई राज्य में गर्मी से जूझ रहे थे। इतनी गर्मी कि लोगों का घर से बाहर निकलना दुश्वार हो गया था और घर के अंदर भी रहना किसी चुनौती से कम नहीं था। इस गर्मी ने न केवल रोजमर्रा की जिंदगी को प्रभावित किया बल्कि कई सालों के तापमान के रिकॉर्ड्स भी तोड़ दिए। लोगों ने गर्मी से राहत पाने के लिए विभिन्न उपाय अपनाए जैसे कि घरों में एयर कंडीशनर्स का इंस्टॉलेशन।

मानसून का आगमन और गर्मी में कमी

अब जबकि मानसून ने अपनी दस्तक दी है मौसम में एक सुखद परिवर्तन आया है। हालांकि अभी भी गर्मी का प्रकोप पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है। मानसून के आगमन के साथ ही तापमान में कमी आई है लेकिन अभी भी कई क्षेत्रों में उमस भरी गर्मी का अनुभव हो रहा है। इसके चलते एयर कंडीशनर्स के उपयोग में भी बदलाव की आवश्यकता पड़ी है।

एसी का उपयोग

आदर्श तापमान पर एसी चलाने की सिफारिश

मानसून के दौरान तापमान में गिरावट के बावजूद एसी की जरूरत अभी भी बनी हुई है। इस समय में एसी को 24 से 26 डिग्री सेल्सियस के बीच सेट करना उचित माना जाता है। इस तापमान सेटिंग पर एसी चलाने से न केवल लाइट की बचत होती है बल्कि यह उमस और गर्मी से राहत मिलेगी।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

ड्राई मोड का उपयोग करने के फायदे

मानसून के दौरान जब हवा में नमी की मात्रा बढ़ जाती है तो एसी को ड्राई मोड पर सेट करना फायदेमंद रहता है। ड्राई मोड पर चलाने से एसी हवा से अतिरिक्त नमी को अवशोषित करता है जिससे कमरे की हवा सूखी और अधिक आरामदायक बनती है। इससे उमस कम होती है और आपको गर्मी से बेहतर राहत मिलती है। अगर तापमान काफी नीचे गिर जाए तो एसी को 28 डिग्री पर सेट करना भी एक सही ऑप्शन हो सकता है।

उपयोगकर्ताओं के लिए टिप्स

ऊर्जा दक्षता और बिजली बचत के लिए सुझाव

जब भी आप एसी का उपयोग कर रहे हों ऊर्जा की बचत करने के लिए उसे 24 डिग्री से कम पर न चलाएं। यह न केवल बिजली की खपत को कम करता है बल्कि आपके बिजली के बिल में भी कमी लाता है। इसके अलावा एसी को लगातार चलाने के बजाय इसे आवश्यकतानुसार ही चालू करें जिससे अधिक ऊर्जा की बचत हो सके।