home page

मध्यप्रदेश के इन 2 शहरों के बीच बनेगा 203KM का 4लेन सड़क, इन गांवों की जमीनों के रेट्स में आया उछाल

इंदौर और इच्छापुर के बीच निर्माणाधीन फोरलेन परियोजना न सिर्फ दो शहरों के बीच दूरी को कम करेगी बल्कि यात्रा के समय में भी बड़ी बचत करेगी। यह परियोजना भैरवघाट के पहाड़ों को काटकर और सुरंगों के बीच से गुजरते हुए यात्रा को न केवल आसान बनाएगी बल्कि यात्रियों को सुरम्य वादियों का नजारा देखने को मिलेगा।
 | 
मध्यप्रदेश के इन 2 शहरों के बीच बनेगा 203KM का 4लेन सड़क, इन गांवों की जमीनों के रेट्स में आया उछाल
   

इंदौर और इच्छापुर के बीच निर्माणाधीन फोरलेन परियोजना न सिर्फ दो शहरों के बीच दूरी को कम करेगी बल्कि यात्रा के समय में भी बड़ी बचत करेगी। यह परियोजना भैरवघाट के पहाड़ों को काटकर और सुरंगों के बीच से गुजरते हुए यात्रा को न केवल आसान बनाएगी बल्कि यात्रियों को सुरम्य वादियों का नजारा देखने को मिलेगा।

NHAI की पहल

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने इस फोरलेन सड़क परियोजना को लागू करके यात्रियों के लिए समय और सुविधा में बचत का एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। इसके पूरा होने पर, इंदौर से इच्छापुर के बीच की यात्रा अधिक सुखद और जोखिम-मुक्त हो जाएगी।

2 किमी लंबी सुरंग

इंदौर से इच्छापुर तक के मार्ग में खासकर सिमरोल से चोरल तक पहाड़ों के बीच से गुजरने वाली 2 किमी लंबी सुरंग इस परियोजना की एक विशेषता है। यह सुरंग न केवल यात्रा को सुरक्षित बनाएगी बल्कि यात्रियों को अनोखे प्राकृतिक सौंदर्य के दर्शन भी कराएगी।

यह भी पढ़ें ; क्या 100 की जगह 110 का तेल डलवाने से गड़बड़ी नहीं कर पाते पेट्रोल पंप वाले, बहुत कम लोगों को पता होगी ये खास बात

इंदौर से ओंकारेश्वर

इस नई सड़क के निर्माण से इंदौर से ओंकारेश्वर जाने का समय काफी कम हो जाएगा, जिससे न केवल यात्रियों का समय बचेगा बल्कि उनकी यात्रा भी अधिक आरामदायक होगी। इस परियोजना से निमाड़ और मालवा क्षेत्र के लोगों को भी बड़ी सुविधा होगी।