home page

यूपी के इस जिले में गंगा एक्सप्रेसवे का 60 प्रतिशत काम हुआ पूरा, जाने कब तक शुरू होगा मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेस-वे

भारतीय विकास की गाथा में गंगा एक्सप्रेस-वे एक महत्वपूर्ण अध्याय का निर्माण कर रहा है। यह न केवल समय की बचत करेगा बल्कि व्यापार और पर्यटन को भी नई दिशा प्रदान करेगा। 2025 में प्रयागराज में लगने वाले कुंभ मेले से....
 | 
Ganga Expressway (3)
   

भारतीय विकास की गाथा में गंगा एक्सप्रेस-वे एक महत्वपूर्ण अध्याय का निर्माण कर रहा है। यह न केवल समय की बचत करेगा बल्कि व्यापार और पर्यटन को भी नई दिशा प्रदान करेगा। 2025 में प्रयागराज में लगने वाले कुंभ मेले से पहले इस एक्सप्रेस-वे को तैयार करने की महत्वाकांक्षी योजना है।

निर्माण कंपनी एलएंडटी के अधिकारियों का कहना है कि गंगा पर ओवरब्रिज का निर्माण कार्य भी समय पर पूरा कर लिया जाएगा। यह प्रयागराज कुंभ 2025 से पहले इस एक्सप्रेस-वे को तैयार करने की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण न केवल यातायात को सुगम बनाएगा बल्कि आर्थिक विकास में भी योगदान देगा।

निर्माण कार्य में तेजी

जनपद में गांव बिजौली, बधौली और गोविंदपुरी के जंगलों में आठ किमी लंबी सड़क का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। ओवरब्रिज और रेलवे ब्रिज का काम भी लगभग समाप्ति की ओर है। मेरठ-बुलंदशहर हाईवे पर इंटरचेंज का 80% कार्य पूरा हो चुका है, जो इस एक्सप्रेस-वे की प्रगति को दर्शाता है।

मेरठ से प्रयागराज तक विस्तार

मेरठ से प्रयागराज तक फैले इस एक्सप्रेस-वे का 60% से अधिक निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। बिजौली से शुरू होकर गांव बधौली अटौला और गोविंदपुरी तक आठ किमी लंबी सड़क और दस किमी लंबी सड़क पर अंतिम लेयर बनाने का कार्य जारी है। यह एक्सप्रेस-वे क्षेत्र की आर्थिक प्रगति में महत्वपूर्ण योगदान देगा।

प्राकृतिक सौंदर्य का संरक्षण

एक्सप्रेस-वे के मध्य में बने डिवाइडर पर फूलवारी लगाने का काम भी शुरू हो चुका है। यह न केवल इस एक्सप्रेस-वे को सुंदर बनाएगा बल्कि प्राकृतिक सौंदर्य और हरियाली को भी बढ़ावा देगा। फूलों की देखभाल के लिए विशेष रूप से टेंडर दिया गया है, जिससे यह सुनिश्चित होगा कि एक्सप्रेस-वे के आस-पास का पर्यावरण संरक्षित रहे।