home page

Bullet Train in India: भारत में बुलेट ट्रेन को लेकर काम हुआ 100 प्रतिशत पूरा, इस तारीख से 350km की रफ्तार से दौड़ेगी ट्रेन

पूरा देश बुलेट ट्रेन का इंतजार कर रहा है। समय-समय पर सरकार भी इसकी प्रक्रिया को बताती रहती है। देश की पहली बुलेट ट्रेन अहमदाबाद-मुंबई होगी। इस रेलवे ट्रैक का 90 प्रतिशत से अधिक हिस्सा हवा में यानी पुल पर होगा।
 | 
bullet train in india progress

Bullet Train in India: पूरा देश बुलेट ट्रेन का इंतजार कर रहा है। समय-समय पर सरकार भी इसकी प्रक्रिया को बताती रहती है। देश की पहली बुलेट ट्रेन अहमदाबाद-मुंबई होगी। इस रेलवे ट्रैक का 90 प्रतिशत से अधिक हिस्सा हवा में यानी पुल पर होगा। बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए जमीन अधिग्रहण का काम 100 प्रतिशत पूरा हो चुका है, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने हाल ही में बताया।

जानकारी के अनुसार, जमीन अधिग्रहण का कार्य काफी लंबे समय से अटक गया था। इस परियोजना के लिए जमीन अधिग्रहण का कार्य पूरा होना एक मील का पत्थर है। रेलवे ट्रैक पर बुलेट ट्रेन के पुल के लिए 274.12 किलोमीटर तक पिलर खड़े कर दिए गए हैं। 127.72 किलोमीटर के गर्डर भी लगाए गए हैं। ग्रेडर्स पहले से तैयार सीमेंट या लोहे के प्लेटफॉर्म पर रेल ट्रैक बिछाए जाते हैं।

पहला रूट होगा 508 किमी का

बुलेट ट्रेन सबसे पहले अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलेगी, जिसकी लंबाई 508 किलोमीटर होगी। 2026 में बिलिमोरा और सूरत में इस ट्रेन का ट्रायल होगा। ये ट्रेन गुजरात के 9 जिलों से गुजरेगी और 352 किलोमीटर की दूरी पर होगी। इसके विपरीत, महाराष्ट्र में इसकी लंबाई 156 किलोमीटर होगी और इसमें 3 जिले होंगे।

इसके अलावा चार किलोमीटर की दूरी पर नगर हवेली भी होगी। इस कोरिडोर में बारह स्टेशन बनाए जाएंगे। बुलेट ट्रेन का डिजाइन 350 km/h के अनुरूप होगा और इसकी स्पीड 320 km/h होगी। ये बुलेट ट्रेन मुंबई से दो घंटे में अहमदाबाद पहुंच जाएगी।

6 और रूट पर दौड़ेगी बुलेट ट्रेन

आपको बता दें कि मुंबई और अहमदाबाद के अलावा दो और कोरिडोर पर भी बुलेट ट्रेन चलाई जाएगी: दिल्ली से अमृतसर, हावड़ा से वाराणसी से पटना, दिल्ली से आगरा, लखनऊ से वाराणसी, दिल्ली से जयपुर, उदयपुर, अहमदाबाद, मुंबई से नासिक, नागपुर और हैदराबाद। सभी रुट्स के लिए फिजिबिलिटी रिपोर्ट बनाई गई है। इनमें से पहले हावड़ा-वाराणसी और दिल्ली-अमृतसर के लिए बुलेट ट्रेन सेवाएं शुरू होंगी।