home page

इन टोल प्लाजा पर कार चालकों को देने पड़ेंगे 85 रुपए, बस और ट्रक के टोल रेट में भी हुई बढ़ोतरी

भारत में यात्रा करने वाले हर वाहन चालक के लिए टोल टैक्स एक अनिवार्य शुल्क है जो उन्हें नैशनल हाईवेज पर यात्रा करते समय अदा करना होता है। हाल ही में नैशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने दिल्ली-जयपुर हाइवे पर...
 | 
Toll increased on Delhi Mumbai Expressway
   

भारत में यात्रा करने वाले हर वाहन चालक के लिए टोल टैक्स एक अनिवार्य शुल्क है जो उन्हें नैशनल हाईवेज पर यात्रा करते समय अदा करना होता है। हाल ही में नैशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने दिल्ली-जयपुर हाइवे पर स्थित खेड़कीदौला टोल टैक्स पर टोल दरों में संशोधन किया है, जिससे यात्रा थोड़ी महंगी हो जाएगी। आइए इस बदलाव को विस्तार से समझते हैं।

टोल दरों में बदलाव

नई टोल दरों के अनुसार कार चालकों को अब 80 रुपए की जगह 85 रुपए टोल के रूप में अदा करने होंगे। हालांकि लाइट कमर्शल वीकल और मिनी बस के टोल रेट में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है। इसके अलावा आईजीआई एयरपोर्ट टोल के रेट भी संशोधित किए गए हैं, जहां कार के लिए 25 रुपए सिंगल जर्नी तय किए गए हैं।

मासिक पास में बड़ी राहत

खेड़कीदौला टोल पर मासिक पास इस्तेमाल करने वाले वाहन चालकों को एक बड़ी राहत प्रदान की गई है। 30 दिन में 40 यात्राओं के लिए मासिक पास का शुल्क मात्र 930 रुपये ही रहेगा। इससे मासिक पास धारकों को हर यात्रा पर महज 25 पैसे ही अधिक भुगतान करना होगा जो कि एक मामूली वृद्धि है।

मासिक पास से बढ़ी दर को दे सकते हैं मात

टोल प्लाजा से यात्रा करने वाले वाहन चालक मासिक पास बनवाकर बढ़ी हुई को मात दे सकते हैं। बिना पास कार चालक से एक यात्रा के 85 रुपये लिए जाएंगे। इसके उलट अगर कार चालक मासिक पास इस्तेमाल करता है तो उसकी एक तरफ की यात्रा 23.25 रुपये में पूरी हो जाएगी।

इस हिसाब से कार चालक एक यात्रा करने पर 61.75 रुपये की बचत कर सकता है। दो यात्रा करने पर वह हर दिन 123.50 रुपये बचा सकता है। LCV के लिए मासिक पास 1225 रुपए में निर्धारित किया गया है। बस और ट्रक चालक 3675 में मासिक पास बनवाकर बचत कर सकते हैं।

मुंबई एक्सप्रेसवे पर मंजूरी का इंतजार

1 अप्रैल से दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का सफर करने वालों की भी जेब ढीली होगी। यहां भी टोल दरों में 5 फीसदी की बढ़ोतरी प्रस्तावित है। दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे की टोल दरों को एनएचएआई की मंजूरी का इंतजार है।

एक्सप्रेसवे की परियोजना इकाई की ओर से 5 फीसदी बढ़ोतरी की सिफारिश की गई है। परियोजना प्रबंधक जयवर्धन सिंह के अनुसार प्रस्तावित टोल दरों को मंजूरी मिलने के बाद उन्हें सार्वजनिक कर दिया जाएगा।