home page

Direct Ayodhya Bus: अयोध्या में श्री राम मंदिर दर्शन के लिए भक्तों का सफर होगा आसान, श्रद्धालुओं के लिए विभाग चलाएगा 200 स्पेशल बसें

उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी अयोध्या वसंत पंचमी के मुख्य स्नान पर्व की भव्य तैयारियों में जुट गई है। इस पवित्र अवसर पर, परिवहन निगम ने श्रद्धालुओं (Devotees) की सुविधा के लिए 200 विशेष बसों...
 | 
Travel to Ayodhya

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की धार्मिक नगरी अयोध्या (Ayodhya) वसंत पंचमी (Vasant Panchami) के मुख्य स्नान पर्व की भव्य तैयारियों में जुट गई है। इस पवित्र अवसर पर, परिवहन निगम ने श्रद्धालुओं (Devotees) की सुविधा के लिए 200 विशेष बसों (Special Buses) के संचालन की योजना बनाई है।

यह बसें 14 फरवरी को वसंत पंचमी के दिन और उससे पहले और बाद के दिनों में भी चलाई जाएंगी, जिससे श्रद्धालु आसानी से अयोध्या पहुंच सकें। वसंत पंचमी के अवसर पर अयोध्या में विशेष बस सेवा की व्यवस्था न केवल श्रद्धालुओं के लिए सुविधाजनक होगी।

बल्कि यह धार्मिक आयोजनों (Religious Events) के प्रति प्रशासन की संवेदनशीलता (Sensitivity) और प्रतिबद्धता (Commitment) को भी दर्शाता है। इस पहल से न केवल आवागमन में आसानी होगी, बल्कि यह श्रद्धालुओं के लिए एक सुरक्षित और सुगम यात्रा (Safe and Convenient Journey) का अनुभव सुनिश्चित करेगा।

बसों का संचालन और रूट

इस विशेष अवसर पर, अयोध्या परिक्षेत्र (Ayodhya Region) से संबंधित सभी 120 बसें और परिक्षेत्र के अन्य डिपो से 80 बसें विभिन्न रूटों (Routes) पर चलाई जाएंगी।

इन बसों का मुख्य उद्देश्य गोण्डा, बलरामपुर, बहराइच, बस्ती, गोरखपुर, अम्बेडकरनगर सहित पड़ोसी जिलों (Neighbouring Districts) से आने वाले श्रद्धालुओं को आवागमन (Commutation) की सुविधा प्रदान करना है।

अस्थाई बस स्टेशन की व्यवस्था

श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए, गोरखपुर-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग (National Highway) पर साकेत पेट्रोल पंप के पास एक अस्थाई बस स्टेशन (Temporary Bus Station) विकसित किया जा रहा है। यहां से बसों का संचालन होगा, जिससे श्रद्धालुओं को अयोध्या पहुंचने में आसानी होगी।

जिलाधिकारी की पहल और निर्देश

वसंत पंचमी पर्व के सुचारु रूप से संचालन के लिए जिलाधिकारी नितीश कुमार (District Magistrate Nitish Kumar) की अध्यक्षता में एक बैठक हुई, जिसमें क्षेत्रीय प्रबंधक विमल राजन (Regional Manager Vimal Rajan) और अयोध्या डिपो के एआरएम आदित्य प्रकाश (ARM Aditya Prakash) को विभिन्न दिशा-निर्देश दिए गए। इस बैठक में श्रद्धालुओं के आवागमन की बेहतर सेवा प्रदान करने पर विशेष जोर दिया गया।