home page

क्या सच में नाग को मारने के बाद नागिन बदला लेने आती है? जाने इसके पीछे की क्या है असली हकीकत

भारत में आमतौर पर मानते हैं कि अगर किसी नाग को मारा तो नागिन जरूर बदला लेगी। क्या वास्तव में ऐसा होता है। कितनी सच्चाई है इस बात में। सांपों को लेकर तमाम बातें कही जाती रही हैं।
 | 
facts about snakes
   

भारत में आमतौर पर मानते हैं कि अगर किसी नाग को मारा तो नागिन जरूर बदला लेगी। क्या वास्तव में ऐसा होता है। कितनी सच्चाई है इस बात में। सांपों को लेकर तमाम बातें कही जाती रही हैं। इसी तरह सांपों को क्या सच में दूध से प्यार होता है, जहां दूध होता है वहां वो इसको पीने चले आते हैं। सच्चाई क्या है।

आस्ट्रेलिया के प्रसिद्ध विक्टोरिया म्युजियम में सांपों की सबसे ज्यादा प्रजातियां हैं। इस म्युजियम ने लगातार सांपों से जुड़ी बहुत सी बातों का अध्ययन किया। उनका ये अध्ययन उनकी आधिकारिक वेबसाइट पर है। हमने इसी वेबसाइट के जरिए ही आपको सांपों के जुड़े मिथक और उनकी सच्चाई बताने जा रहे हैं। 

दूध पीने आता है सांप

पूरी दुनिया में ये माना जाता है। हकीकत ये है कि सरीसृप डेयरी उत्पादों को पचा नहीं सकते। लिहाजा वो दूध पीने के बहुत ज्यादा इच्छुक नहीं रहते लेकिन अगर वो प्यासे हैं तो कुछ भी पी लेंगे। 

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

सांप के सिर काटने का किस्सा

ये मिथक कई देशों में प्रचलित है लेकिन सही नहीं है। सिर काटने के बाद कुछ समय के लिए सांप का शरीर हरकत में रहता है लेकिन ऐसा नहीं है कि वो सूरज के डूबने तक जिंदा रहेगा।

जोड़े में ही चलते हैं सांप

सामान्य तौर पर प्रेमालाप और संभोग के दौरान केवल दो सांप एक जगह पर होते हैं लेकिन वो साथ नहीं चलते। अन्यथा बड़ा सांप आमतौर पर छोटे को मारकर खा जाएगा। 

नाग को मारेंगे तो नागिन लेगी बदला

सांपों का ना तो कोई सामाजिक बंधन होता है और ना ही वो हमलावर को पहचान पाते हैं और ना उनकी बुद्धि या मेमेरी इतनी तेज होती है। इस भ्रम फैलाने में बॉलीवुड फिल्मों का योगदान बहुत ज्यादा है।

सांप बहरे होते हैं

हालांकि सांप के कान बाहर की ओर निकले नहीं होते लेकिन आंतरिक कान होते हैं तो जमीन से पैदा होने हल्के से हल्के कंपन को फील करते हैं।