home page

इस डर के चलते मुगल बादशाह ने अपनी बेटियों को रखा कुंवारी, शहजादियों ने कुंवारेपन के साथ ही बिता दी अपनी जवानी

हम सबने मुगलों का इतिहास पढ़ा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक मुगल शासक ने अपनी बेटियों को शादी नहीं करने दी?
 | 
Mughal Emperor: इस मुगल शासक ने अपनी बेटियों की नहीं की शादी, जिंदगीभर रही कुंवारी
   

हम सबने मुगलों का इतिहास पढ़ा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक मुगल शासक ने अपनी बेटियों को शादी नहीं करने दी? मुगल बादशाह ने अपनी बेटियों को जीवन भर अविवाहित रहने पर मजबूर कर दिया। इतना ही नहीं, उसने किसी पुरुष को अपनी बेटियों की देखभाल करने नहीं दी। वह अपनी बेटियों के पास भी किसी को नहीं आने देता था। अपनी बेटियों का महल किन्नरों से सजाया जाता था। आइए मुगल बादशाह की बेटियों की शादी नहीं होने का एक दिलचस्प कारण जानते हैं।

बेटियों की शादी नहीं कराने वाला मुगल

याद रखें कि अकबर था मुगल बादशाह, जो बेटियों को विवाह नहीं करने दिया था। अकबर ने अपनी तीन बेटियों में से किसी एक को भी शादी नहीं करवाई। अकबर की बेटियों ने जीवन भर अकेले बिताया। अकबर की बेटियों की शादी नहीं करवाने की जिद की चौंकाने वाली वजह है।

शादी ना होने देने का कारण

मुगल बादशाह अकबर को किसी के सामने झुकना नागवार था। उसे झुकना भी पसंद नहीं था। उसे डर था कि अगर वह अपनी बेटियों को विवाह कराता है तो उसे दूल्हे के पिता के सामने सिर झुकाना पड़ेगा। अकबर ने इसलिए अपनी बेटियों की शादी नहीं करवाई।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

उनका जीवन भर कुंवारा रहनामुगल बादशाह अकबर के इस अनूठे निर्णय की वजह से उसकी बेटियों की शादी नहीं हो सकी। उसकी बेटियां पूरे जीवन अपने पिता के घर में रहे। इतना ही नहीं, अकबर की बेटियों के घर में पुरुषों का प्रवेश वर्जित था।

आपको जानकर हैरानी होगी कि किन्नर ने अकबर की बेटियों की रक्षा की। महल के दरवाजे पर किन्नर खड़े थे। अकबर के इस अजीब फैसले पर लोगों में मतभेद हैं। कोई इसे बेटियों की जिंदगी बर्बाद करने वाला अकड़ में लिया गया निर्णय बताता है, तो कोई इसे बेटी की रक्षा बताता है।