home page

कभी सोचा है कि कुत्ते पैर को उठाकर ही क्यों करते है पेशाब, असली कारण भी पता होना चाहिए

कुत्ता वह जानवर है जिसे लोग अक्सर अपने घरों में पालतू बनाते हैं। उनकी वफादारी और समर्पण की वजह से कुत्ता एक अद्भुत साथी बन जाता है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि वे क्यों-क्यों सीधे और ऊंचे स्थानों पर पेशाब करते हैं?
 | 
gog

कुत्ता वह जानवर है जिसे लोग अक्सर अपने घरों में पालतू बनाते हैं। उनकी वफादारी और समर्पण की वजह से कुत्ता एक अद्भुत साथी बन जाता है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि वे क्यों-क्यों सीधे और ऊंचे स्थानों पर पेशाब करते हैं? यहां हम आपको बताएंगे कि इस प्राचीन आदत के पीछे एक महत्वपूर्ण सामाजिक कारण होता है।

कुत्तों का पेशाब करने का यह अद्वितीय तरीका उनके सामाजिक संबंधों और आपसी समझ का परिचय कराता है। इसके अलावा, यह उनके बीच की भाषा का भी महत्वपूर्ण हिस्सा होती है जो उनके लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होती है। इसलिए हमें उनके इस अद्भुत व्यवहार को समझने का प्रयास करना चाहिए।

उनके साथ बेहतर संबंध बनाने के लिए उनकी आवश्यकताओं को समझने का प्रयास करना चाहिए। आप लोगों को इस आर्टिकल से कुत्तों के इस अद्भुत व्यवहार के पीछे के सामाजिक कारण को समझने में मदद मिली होगी। अब आपको अपने पालतू कुत्ते के साथ और भी करीबी और समर्पित संबंध बनाने में सहायक हो सकता है।

गंध की प्राथमिकता 

कुत्ते का पेशाब करते समय वे अपनी गंध को दूसरे कुत्तों के लिए छोड़ जाते हैं। यह गंध उनके आपसी संबंधों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनती है और उनके बीच की भाषा का काम करती है। इसके साथ ही, वे अपनी गंध को अपने रास्ते की पहचान के तौर पर भी इस्तेमाल करते हैं।

इसलिए वे आमतौर पर कुछ विशेष स्थानों पर ही पेशाब करने की कोशिश करते हैं, जो उनके गंध को सटीक बनाता है और उनके संदेश को अच्छी तरह से पहुंचाता है।

गंध का सही स्थान 

कुत्ते अक्सर उन स्थानों की तलाश करते हैं जहां उनके पेशाब का सबसे अच्छा उपयोग हो सके। वे इसे सीधे खड़ा होकर और खुलकर करने का प्राथमिकता देते हैं। इस तरीके से, उनका निशाना सटीक बैठता है और पेशाब करने में उन्हें आसानी होती है। यह उनके लिए एक आम समझा जाने वाला कृत्य होता है, जो उनके सामाजिक संबंधों को मजबूती देता है।

नाक की ऊंचाई

कुत्तों के बीच गंध की गति ऊंचाइ पर भी निर्भर करती है। जब वे अपनी गंध को ऊंचे स्थान पर छोड़ते हैं, तो उसका प्रभाव ज्यादा देर तक रहता है। इसके बाद, वे अपने खेत को परिचित करते हैं और दूसरे कुत्तों के साथ आपसी संबंध बनाते हैं। इसलिए उन्हें अक्सर उच्च स्थान पर पेशाब करने का आदत हो जाता है।

गंध का उपयोग 

कुत्ते अपनी गंध को न केवल अपने संबंधों के लिए बल्कि अपने रास्ते की पहचान के तौर पर भी इस्तेमाल करते हैं। इस तरीके से, वे दूसरे कुत्तों को यह सिखाते हैं कि वे इस क्षेत्र में उनके स्वागत हैं और वहां की हालत जानने के लिए उनकी गंध का सहारा लेते हैं। इसके अलावा, वे अपनी गंध को छोड़कर कहीं दूर जाते हैं और जब वापस आते हैं, तो वही गंध उनके लिए एक प्रकार की दिशा मार्गदर्शिका का काम करती है।