home page

हर लड़की चाहती है उसके पति में हो कुत्ते के ये 5 गुण, शादी के बाद पार्टनर रहता है एकदम संतुष्ट

आचार्य चाणक्य जो एक महान विद्वान, रणनीतिकार और अर्थशास्त्री थे। आचार्य चाणक्य ने अपने नीतिशास्त्र में जीवन के मूल्यवान सूत्रों को साझा किया है। उनकी नीतियां जो कठोर प्रतीत होती हैं, वास्तव में जीवन की सच्चाइयों...
 | 
chanakya niti for good husband
   

आचार्य चाणक्य जो एक महान विद्वान, रणनीतिकार और अर्थशास्त्री थे। आचार्य चाणक्य ने अपने नीतिशास्त्र में जीवन के मूल्यवान सूत्रों को साझा किया है। उनकी नीतियां जो कठोर प्रतीत होती हैं, वास्तव में जीवन की सच्चाइयों का आईना हैं। चाणक्य की ये नीतियां जीवन के विविध पहलुओं में हमें सही दिशा दिखाने के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं।

चाणक्य कहते हैं कि अगर कुत्ते के 5 गुण एक पुरुष में हो तो उसकी स्त्री हमेशा संतुष्ट रहती है। ऐसे गुणों वाला पुरुष परिवार में खुशी को बनाये रहता है और सम्पन्न रहता है। तो आपको बता दें कि कौन-कौन से वो गुण हैं जो पुरुष को ये काबलियत देते हैं।

थोड़े में संतुष्ट रहना

पुरुष को यथाशक्ति काम करना चाहिए और काम के बाद जो धन मिलता है उसी में खुश रहना चाहिए। कमाए गये धन में ही परिवार का पालन पोषण करना चाहिए। जो पुरुष ऐसा करता है वो सर्वश्रेष्ठ पुरुष होता है। जैसे एक कुत्ता जितना खाना दो उतने में ही संतुष्ट हो जाता है। उसी तरह एक पुरुष को भी जितना प्यार से मिले, उसी में सतुंष्ट रहना चाहिए।

सतर्क रहना

कुत्ते गहरी नींद में भी सतर्क होते हैं, बिल्कुल वैसे ही पुरुष को भी अपने परिवार-स्त्री और कर्तव्यों को लेकर सतर्क होना चाहिए। शत्रुओं के सदा सावधान रहे, चाहें कितनी भी गहरी नींद में क्यों ना हो परिवार की रक्षा के लिए एक पुरुष को हमेशा सतर्क रहना चाहिए। ऐसे गुण वाले पुरुष से शादी करने पर महिला हमेशा खुश रहती है।

वफादारी

कुत्ता एक वफादार प्राणी है जिसपर कोई शक नहीं कर सकता है। बिल्कुल वैसे ही पुरुष को भी हमेशा वफादार होना चाहिए। वैसे ये आजकल देखने को नहीं मिलता, हर पुरुष दूसरी स्त्री को देखने को लालायित रहता है और ऐसे घर की स्त्री कभी खुश नहीं रहती है। जिस पुरुष में कुत्ते की वफादारी हो उसकी स्त्री हमेशा आनंदित रहती है।

वीरता

कुत्ता एक वीर प्राणी है जो अपने मालिक के लिए जान तक गंवा सकता है। उसी प्रकार एक पुरुष को भी वीर होना चाहिए। जरुरत पड़ने पर अपनी स्त्री के लिए जान दाव पर लगा देने वाला पुरुष भाग्यशाली महिला को ही मिलता है।

संतुष्ट रखना

एक पुरुष को अपनी स्त्री को हमेशा संतुष्ट रखना चाहिए। अपनी स्त्री की सभी तार्कक बातों को मानना चाहिए और भावनात्मक रुप से भी अपनी स्त्री को संतुष्ट रखना चाहिए। ऐसा करने वाला पुरुष हमेशा अपनी स्त्री का प्रिय रहेगा और रिश्ता बना रहेगा और ऐसी स्त्री और पुरुष दोनों ही खुद को भाग्यशाली मानेंगे।