home page

पिता की 60 साल पुरानी पासबुक ने बेटे को बना दिया करोड़पति, बैंक लेकर पहुंचा तो बैंक मैनेजर के उड़े होश

कहते हैं छोटी-छोटी चीजें अक्सर बड़ी सीख दे जाती हैं, और यही बात बैंक की पासबुक पर भी लागू होती है। इसका एक उदाहरण है चिली के एक व्यक्ति की कहानी जिसने पिता की 60 साल पुरानी पासबुक से करोड़पति बनने का सपना साकार किया।
 | 
bank-passbook-after-60-years
   

कहते हैं छोटी-छोटी चीजें अक्सर बड़ी सीख दे जाती हैं और यही बात बैंक की पासबुक पर भी लागू होती है। इसका एक उदाहरण है चिली के एक व्यक्ति की कहानी जिसने पिता की 60 साल पुरानी पासबुक से करोड़पति बनने का सपना साकार किया। आइए जाने इस अनोखी घटना के बारे में.. 

सपनों का घर और पिता की मेहनत

एक्सकेल हिनोजोसा के पिता ने अपने सपनों के घर के लिए 1960 और 70 के दशक में बैंक में 163 डॉलर (लगभग 12,684 रुपये) जमा कराए थे। उनका यह कदम उनकी मेहनत और भविष्य के प्रति उनकी उम्मीदों को दर्शाता है।

पासबुक

हिनोजोसा के पिता की मौत के बाद वह पासबुक किसी पुराने बक्से में बंद पड़ी रह गई। वर्षों बाद जब हिनोजोसा ने उसे खोज निकाला तो उन्होंने पाया कि उस पर 'स्टेट गारंटी' नामक शब्द अंकित था। इसी के साथ एक अनोखा रहस्य खुलना शुरू हुआ।

विरासत का मूल्यांकन और कोर्ट का फैसला

ब्याज दर और महंगाई को देखते हुए, हिनोजोसा को लगा कि उनके पिता की जमा राशि अब 1.2 मिलियन डॉलर (लगभग 9.33 करोड़ रुपये) के करीब पहुंच गई होगी। इस दावे को लेकर वह सुप्रीम कोर्ट पहुंचे जहां कोर्ट ने हिनोजोसा के पक्ष में फैसला सुनाया।

यह भी पढ़ें; वन व्हीकल वन फास्टैग नियम क्या है और क्या है इसका फायदा, जाने आपके सफर पर इसका क्या असर पड़ेगा

एक पासबुक की पावर 

हिनोजोसा की कहानी ने सिखाया कि कैसे एक छोटी सी पासबुक जीवन बदल सकती है। इससे हमें यह भी सीखने को मिलता है कि बैंक संबंधी दस्तावेजों को संभालकर रखना और उन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ना कितना महत्वपूर्ण है।