home page

चीन की सड़कों पर साड़ी पहनकर निकली लड़की तो लोगो का था ऐसा रिएक्शन, कुछ ने तो बोल दी ये बात

भारतीय संस्कृति और परंपरा की गहराई और समृद्धि का जादू सिर्फ भारतीय सीमाओं तक ही सीमित नहीं है। आज के युग में विश्व भर में भारतीय परंपराओं के अनुयायी मिल जाएंगे।
 | 
चीन की सड़कों पर साड़ी पहनकर निकली लड़की तो लोगो का था ऐसा रिएक्शन, कुछ ने तो बोल दी ये बात
   

भारतीय संस्कृति और परंपरा की गहराई और समृद्धि का जादू सिर्फ भारतीय सीमाओं तक ही सीमित नहीं है। आज के युग में विश्व भर में भारतीय परंपराओं के अनुयायी मिल जाएंगे। फिर चाहे वह कपड़े हों हमारी शादी की रस्में, भाषा, या हमारा खान-पान। यही विशेषता भारतीय संस्कृति को विश्व स्तर पर अनोखा बनाती है।

विदेशी धरती पर साड़ी का जलवा

कल्पना कीजिए कि जब एक विदेशी महिला भारतीय परंपरा का प्रतीक बने तो दुनिया का रिएक्शन क्या होगा? इन दिनों वेरॉनिका गोयल का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वो चीन की सड़कों पर साड़ी पहने नजर आ रही हैं। पोलैंड की नागरिक और एक भारतीय से विवाहित, वेरॉनिका दिल्ली में रहती हैं और अपनी यात्राओं के अनुभव इंस्टाग्राम पर शेयर करती हैं।

चीन में साड़ी का चलन 

वेरॉनिका ने अपने वीडियो में लिखा, "सिर्फ भारत में ही साड़ी क्यों पहनी जाए?" लाल साड़ी में चीन की सड़कों पर टहलती वेरॉनिका को देखकर सभी की नजरें उन्हीं पर टिक गईं। उनके आत्मविश्वास से भरे चाल और साड़ी की खूबसूरती ने कईयों को मोहित कर दिया।

अलग अलग प्रतिक्रियाओं का सामना

वेरॉनिका के इस कदम को जहां कई लोगों ने सराहा वहीं कुछ ने उन्हें उनके परिधान के चयन के लिए ट्रोल भी किया। हालांकि वेरॉनिका ने अपने आलोचकों को उचित जवाब दिया और उनके खुले बाजुओं के प्रति आलोचना करने वालों को कहा कि उन्हें उनके ढके हुए बाजू पर ध्यान देना चाहिए।

वैश्विक मंच पर भारतीय संस्कृति की छाप

वेरॉनिका का यह वीडियो न सिर्फ भारतीय संस्कृति की वैश्विक स्वीकृति को दर्शाता है बल्कि यह भी बताता है कि कैसे भारतीय परंपराएं और रीति-रिवाज दुनिया भर में लोगों को आकर्षित करती हैं। ऐसी घटनाएं भारतीय संस्कृति के विविधतापूर्ण और समृद्ध स्वरूप को प्रदर्शित करती हैं और विश्व समुदाय में इसके महत्व को बढ़ाती हैं।