home page

हरियाणा में एक अप्रैल से शुरू होगी गेंहु की सरकारी खरीद, इतने घंटे में किसानों के बैंक खाते में आएंगे पैसे

रबी सीजन 2024 के आगाज के साथ हरियाणा में किसानों और खरीद एजेंसियों की तैयारियों ने जोर पकड़ लिया है। 26 मार्च से सरसों की खरीद आरंभ हो चुकी है और 1 अप्रैल से गेहूं की खरीद की जाएगी।
 | 
wheat-procurement-will-start-in-haryana
   

रबी सीजन 2024 के आगाज के साथ हरियाणा में किसानों और खरीद एजेंसियों की तैयारियों ने जोर पकड़ लिया है। 26 मार्च से सरसों की खरीद आरंभ हो चुकी है और 1 अप्रैल से गेहूं की खरीद की जाएगी। रबी सीजन 2024 के आगाज के साथ हरियाणा में किसानों और खरीद एजेंसियों की तैयारियों ने जोर पकड़ लिया है।

26 मार्च से सरसों की खरीद आरंभ हो चुकी है और 1 अप्रैल से गेहूं की खरीद की जाएगी। इस दौरान प्रदेश भर में 417 मंडियां और खरीद केंद्र सक्रिय रहेंगे।

फसलों की खरीद के लिए विशेष इंतजाम

इस साल गेहूं की भारी आवक की उम्मीद के मद्देनजर प्रशासन ने फसलों की खरीद और स्टोरेज के लिए विस्तृत इंतजाम किए हैं। खरीद प्रक्रिया में सुचारुता लाने और किसानों को समय पर भुगतान सुनिश्चित करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से 48 से 72 घंटे के भीतर भुगतान का विकल्प अपनाया जाएगा।

चार एजेंसियां संभालेंगी खरीद की कमान

खरीद प्रक्रिया को चार प्रमुख एजेंसियां - खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग, हैफेड, एचएसडब्ल्यूसी और एफसीआई संभालेंगी। इस प्रक्रिया में सभी जिला उपायुक्तों को इन एजेंसियों के साथ समन्वय बनाने और खरीद प्रक्रिया की सतत निगरानी करने के निर्देश दिए गए हैं।

गेहूं के स्टोरेज की चुनौती का समाधान

इस वर्ष गेहूं की अधिक आवक के मद्देनजर अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ सुमिता मिश्रा ने जिला उपायुक्तों को फसलों को स्टोर करने के लिए पर्याप्त स्थान की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। स्टोरेज की सुविधाओं में वृद्धि और खरीद प्रक्रिया की सुचारुता के लिए जिला इंचार्जों द्वारा मंडियों का निरीक्षण भी किया जाएगा।

सुरक्षा और निगरानी की मजबूत व्यवस्था

सरकार ने खरीद प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की अनियमितता या अप्रिय स्थिति से बचने के लिए पुलिस महानिदेशक को मंडियों में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा है। साथ ही दूसरे राज्यों के बॉर्डर पर निगरानी के लिए विशेष व्यवस्था की गई है।

किसानों की सुविधा के लिए व्यापक प्रयास

मंडियों में किसानों के लिए हेल्पडेस्क, पेयजल, शौचालय और फसलों की सुरक्षा के लिए तिरपाल की व्यवस्था जैसी सुविधाओं का इंतजाम किया गया है। इस प्रकार हरियाणा सरकार रबी सीजन 2024 के दौरान फसल खरीद की सुचारुता और किसानों की संतुष्टि सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।