home page

Haryana News: हरियाणा कैबिनेट मीटिंग में आज पेन्शन बढ़ोतरी से लेकर इन फ़ैसलों पर आ सकता है बड़ा डिसीजन, इन लोगों की हो जाएगी बल्ले-बल्ले

हरियाणा सरकार की चंडीगढ़ में आयोजित कैबिनेट मीटिंग में बजट सत्र (Budget Session) की तारीख और विभिन्न महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर चर्चा होने वाली है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में यह बैठक आयोजित की गई है...
 | 
haryana-cabinet-meeting-today

हरियाणा सरकार की चंडीगढ़ में आयोजित कैबिनेट मीटिंग में बजट सत्र (Budget Session) की तारीख और विभिन्न महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर चर्चा होने वाली है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में यह बैठक आयोजित की गई है, जिसमें सामाजिक पेंशन बढ़ोतरी, थैलीसीमिया और हिमोफिलिया रोगियों को दिव्यांग पेंशन योजना (Divyang Pension Scheme) में शामिल करने जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे शामिल हैं।

सामाजिक पेंशन और दिव्यांग योजना

मीटिंग में सामाजिक पेंशन में बढ़ोतरी पर मंजूरी की उम्मीद है। पहले ही सामाजिक पेंशन 3,000 रुपए करने का ऐलान मुख्यमंत्री द्वारा किया जा चुका है, जिसकी वैधता जनवरी से होगी। इसके साथ ही, थैलीसीमिया और हिमोफिलिया रोगियों को दिव्यांग पेंशन योजना में शामिल करने की संभावना है, जिससे इन रोगियों को अतिरिक्त सहायता मिल सकेगी।

कबूतरबाजों पर कानूनी शिकंजा 

कैबिनेट मीटिंग में कबूतरबाजों (fraudulent agents) पर कड़ी कार्रवाई के लिए एक नया ऑर्डिनेंस पेश किया जा सकता है। इस कानून के तहत, विदेश भेजने वाले एजेंटों को रजिस्ट्रेशन (Registration) कराना आवश्यक होगा, जिससे धोखाधड़ी की घटनाओं पर रोक लगाई जा सके।

शव सम्मान और जमीन आवंटन प्रस्ताव

शवों के सम्मान से संबंधित ऑर्डिनेंस की संभावना है, जिससे अंतिम संस्कार में मर्यादा सुनिश्चित हो सके। इसके अतिरिक्त, सामाजिक संस्थाओं को जमीन आवंटन से जुड़े प्रस्तावों पर भी विचार किया जाएगा।

एचएसएससी भर्ती और शैक्षणिक पहल

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) द्वारा ग्रुप-डी के 13 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती की जाएगी। इसमें 500 विभिन्न विभागों के पद भी शामिल हैं। इसके अलावा, हज्जाम और नाई समुदाय के लोगों के लिए शैक्षणिक संस्थानों में दाखिले के प्रस्ताव पर भी चर्चा हो सकती है।

हरियाणा सरकार की प्रगतिशील पहल

इस मीटिंग के माध्यम से हरियाणा सरकार ने विभिन्न सामाजिक, शैक्षणिक और कानूनी मुद्दों पर प्रगतिशील कदम उठाए हैं। इससे राज्य के विकास और नागरिकों के कल्याण में योगदान मिलेगा।