home page

Haryana News: हरियाणा में इन कर्मचारियों को मिलेगा कैशलेस स्वास्थ्य योजना का फायदा, जाने खट्टर सरकार का प्लान

हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने हाल ही में कैशलेस स्वास्थ्य योजना (Cashless Health Scheme) की घोषणा की है। यह योजना राज्य के कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए एक बड़ी सौगात साबित होगी।
 | 
Ayushman and Chirayu Yojana

Haryana News: हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने हाल ही में कैशलेस स्वास्थ्य योजना (Cashless Health Scheme) की घोषणा की है। यह योजना राज्य के कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए एक बड़ी सौगात साबित होगी।

फिलहाल, इस योजना का लाभ केवल 800 कर्मचारियों को ही दिया जाएगा, लेकिन इसके विस्तार से हरियाणा के लाखों परिवारों को लाभ मिलने की उम्मीद है।

ये उठा सकते हैं योजना का फायदा

इस योजना के तहत, हरियाणा के लगभग 3.5 लाख नियमित कर्मचारियों (Regular Employees), 3 लाख पेंशनभोगियों (Pensioners), और उनके 20 लाख आश्रितों को कैशलेस इलाज (Cashless Treatment) की सुविधा मिलेगी।

इस योजना के तहत, वंचित वर्ग (Deprived Class), मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना (CM Family Prosperity Scheme) के लाभार्थियों, निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों (Construction Workers), नंबरदारों (Numberdars), चौकीदारों (Watchmen), आशा वर्करों (ASHA Workers),

आंगनवाड़ी वर्करों (Anganwadi Workers), मनरेगा मजदूरों (MNREGA Labourers), रेहड़ी-पटरी वालों (Street Vendors), रिक्शा चालकों (Rickshaw Pullers), और ऑटो चालकों (Auto Drivers) के परिवारों को भी योजना में शामिल किया गया है।

योजना के लिए आर्थिक योग्यता और पात्रता

इस योजना का लाभ उठाने के लिए परिवार की वार्षिक आय (Annual Income) 1.80 लाख रुपये तक होनी चाहिए। साथ ही, परिवार के पास 5 एकड़ से अधिक जमीन (Land Holding) नहीं होनी चाहिए।

इस योजना से हरियाणा के 27 लाख परिवारों को लाभ (Benefit) पहुंचेगा। सभी लाभार्थियों को परिवार पहचान पत्र (Family Identification Card) से जोड़कर कार्ड जारी किए जाएंगे।

पहले देंना होगा 3,000 रुपये का प्रीमियम

इस योजना में 3 लाख रुपये सालाना आय वाले पत्रकारों (Journalists) को 5 लाख रुपये तक मुफ्त स्वास्थ्य बीमा (Free Health Insurance) का लाभ मिलेगा। वहीं, 6 लाख रुपये सालाना आय वाले पत्रकारों को 3,000 रुपये सालाना प्रीमियम (Annual Premium) देना होगा। इससे अधिक आय वाले इस योजना के पात्र नहीं होंगे।

इस योजना में आजाद हिंद फौज (Azad Hind Fauj) के सेनानियों, आपातकाल के दौरान जेल में रहे लोगों (Emergency Detainees), हिंदी आंदोलन से जुड़े लोगों (Hindi Movement Participants), और द्वितीय विश्व युद्ध (World War II) के कैदियों और उनके आश्रितों को भी शामिल किया गया है।

इस तरह, हरियाणा सरकार की यह योजना राज्य के विभिन्न वर्गों के लोगों को स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits) प्रदान करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। इससे न सिर्फ स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच बढ़ेगी, बल्कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को भी बड़ी राहत मिलेगी।