home page

यहां टाइगर के खास अंगो से बनी वाइन के दीवाने है लोग, प्राइवेट पार्ट्स से बनी वाइन से मर्दों को होते है ये फायदे

दुनिया भर में वन्यजीवों का शिकार एक बड़ी और गंभीर समस्या बन चुकी है। विभिन्न प्रजातियों के जानवरों को उनकी खाल मांस हड्डियों और अन्य अंगों के लिए मारा जाता है। विशेष रूप से हाथियों का शिकार उनके दांतों और गैंडों...
 | 
wine-made-from-tiger-private-parts
   
WhatsApp Group Join Now

दुनिया भर में वन्यजीवों का शिकार एक बड़ी और गंभीर समस्या बन चुकी है। विभिन्न प्रजातियों के जानवरों को उनकी खाल मांस हड्डियों और अन्य अंगों के लिए मारा जाता है। विशेष रूप से हाथियों का शिकार उनके दांतों और गैंडों का शिकार उनकी सींघों के लिए किया जाता है।

वन्यजीव संरक्षण कितना महत्वपूर्ण है। विश्व भर में जानवरों के शिकार और उनके अंगों की अवैध बिक्री के खिलाफ सख्त कानूनों और नीतियों की जरूरत है ताकि इन अमूल्य प्रजातियों का संरक्षण सुनिश्चित किया जा सके।

ये भी पढ़िए :- इन सब्ज़ियों के नाम सुनकर तो आपकी भी नही रुकेगी हंसी, खरीदते समय मत कर देना ये गलती वरना होगा पछतावा

अफ्रीका और दक्षिण एशिया शिकार के हॉटस्पॉट

अफ्रीकी और दक्षिण एशियाई देशों में जानवरों से जुड़ी चीजों की मांग अधिक है। इन जानवरों के अंगों से बनने वाली दवाइयों और अन्य उत्पादों की सबसे अधिक मांग चीन और ताइवान में होती है।

चीन में बाघों के प्राइवेट पार्ट्स से बनी वाइन

विशेष रूप से चीन में बाघों का शिकार उनकी खाल और हड्डियों के लिए तो होता ही है साथ ही उनके प्राइवेट पार्ट्स का उपयोग यौन शक्ति बढ़ाने वाली दवाईयों के निर्माण में भी किया जाता है।

यहां बाघ के जननांगों को चावल के वाइन में भिगोया जाता है और कुछ समय बाद इसे पुरुषों को परोसा जाता है। इसका उपयोग करने वाले पुरुषों का मानना है कि इससे उनकी यौन शक्ति में वृद्धि होती है।

ये भी पढ़िए :- पेट्रोल पंप से डिजल या पेट्रोल भरवाते वक्त इस चीज पर रखना तेज निगाहें, फिर तेल भरने वाला नही बना पाएगा आपको उल्लू

अवैध शिकार और कानूनी कार्रवाई

डेली मेल की एक रिपोर्ट के अनुसार 2014 में दक्षिण कोरिया के ग्वांगजी प्रांत में एक व्यक्ति को अवैध रूप से बाघों का शिकार करने और उनका खून पीने के आरोप में 13 साल की सजा सुनाई गई थी। यह व्यक्ति बाघों का खून पीने के साथ-साथ उनके प्राइवेट पार्ट्स का सेवन भी करता था।