home page

एक दिन कितनी रोटियां खाने से सही रहती है हेल्थ, जाने कितनी है एक दिन की लिमिट

भारतीय खान-पान में रोटी का विशेष स्थान है। गेंहू से बनी यह साधारण सी दिखने वाली रोटी वास्तव में हमारे आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।
 | 
roti-how-many-rotis-should-be-eaten
   

भारतीय खान-पान में रोटी का विशेष स्थान है। गेंहू से बनी यह साधारण सी दिखने वाली रोटी वास्तव में हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। आइए जानते हैं कि रोटी खाने से हमारी सेहत को किस प्रकार के लाभ मिलते हैं और दिन में इसकी कितनी मात्रा का सेवन उचित होता है।

रोटी के सेहत लाभ

रोटी, जिसे आमतौर पर गेंहू के आटे से बनाया जाता है हमें न केवल ऊर्जा प्रदान करती है बल्कि इसमें पाए जाने वाले फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स हमें कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ भी देते हैं। रोटी का नियमित सेवन हमें पेट से संबंधित समस्याओं से दूर रखता है और डाइजेस्टिव सिस्टम को भी मजबूत बनाता है।

दिन में रोटी की सही मात्रा

रोटी का सेवन करते समय सही मात्रा का ध्यान रखना बेहद आवश्यक है। एक सामान्य वयस्क महिला के लिए दिन में चार रोटी (सुबह दो और शाम को दो) और एक वयस्क पुरुष के लिए दिन में छह रोटी (सुबह तीन और शाम को तीन) उचित मानी जाती है। हालांकि इसका सेवन व्यक्ति की उम्र, लिंग, काम के प्रकार और शारीरिक गतिविधियों पर भी निर्भर करता है।

यह भी पढ़ें; ये ट्रेन लगातार 465KM तक बिना रुके करती है सफर, जाने किन शहरों से होकर गुजरती है ये ट्रेन

रात में रोटी का सेवन

गेंहू के आटे में मौजूद कार्बोहाइड्रेट्स को पचाने में समय लगता है। इसलिए रात के समय रोटी खाने के बाद सोने में कम से कम तीन घंटे का अंतराल होना चाहिए। यह अच्छे पाचन और बेहतर नींद में मदद करता है।

रोटी बनाने का सही तरीका

रोटी को स्वास्थ्यप्रद बनाए रखने के लिए इसे सही तरीके से बनाना बहुत जरूरी है। रोटी को तवे पर अच्छी तरह से सेंकना चाहिए और इसे फुलाने के लिए गैस की ज्यादा आंच पर नहीं रखना चाहिए। इससे रोटी सही से नहीं सिंक पाती और पाचन में समस्या उत्पन्न हो सकती है।

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। CANYON SPECIALITY FOODS इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले संबंधित डॉक्टर से संपर्क करें।)