home page

एक लाख रुपए वाली स्कूटी बेचने पर शोरूम मालिक को कितना मिलता है कमीशन, एक महीने की कमाई सुनकर तो नही होगा विश्वास

जैसे ही त्योहारों का सीजन आता है, हमारे देश में खरीददारी की धूम मच जाती है। इस बार खासतौर पर ऑटो सेक्टर में स्कूटरों की बिक्री ने नई ऊंचाइयां छू ली हैं। शहर हो या गांव स्कूटी अपनी सुविधा और हल्केपन के कारण....
 | 
Showroom Owner Income
   

जैसे ही त्योहारों का सीजन आता है, हमारे देश में खरीददारी की धूम मच जाती है। इस बार खासतौर पर ऑटो सेक्टर में स्कूटरों की बिक्री ने नई ऊंचाइयां छू ली हैं। शहर हो या गांव स्कूटी अपनी सुविधा और हल्केपन के कारण लोगों की पहली पसंद बनी हुई है। आइए जानते हैं इस त्योहारी सीजन में ऑटो सेक्टर किस प्रकार बल्ले-बल्ले कर रहा है।

त्योहारों के इस खास मौसम में ऑटो सेक्टर विशेष रूप से स्कूटरों की बिक्री के जरिए खूब फल-फूल रहा है। यह उन लोगों के लिए भी एक अवसर है जो इस क्षेत्र में नया व्यापार शुरू करने की सोच रहे हैं। सही रणनीति और समझदारी से निवेश करने पर ऑटो सेक्टर न केवल व्यावसायिक लाभ बल्कि ग्राहकों के संतोष का भी माध्यम बन सकता है।

स्कूटरों की बढ़ती लोकप्रियता

आज के दौर में जहां एक ओर बाइक पुरानी पसंद बन चुकी है, वहीं स्कूटरों ने अपनी एक अलग जगह बना ली है। इसकी मुख्य वजह है इसकी सुविधा और उपयोग में आसानी, जिसके कारण ज्यादातर लोग स्कूटरों को ही चुन रहे हैं। इसके अलावा स्कूटरों की विविधता और डिजाइन भी ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करती है।

मुनाफे का सौदा

ऑटो सेक्टर में स्कूटरों की बिक्री पर होने वाला मुनाफा काफी आकर्षक होता है। एक लाख रुपए की स्कूटी पर डीलरों को मिलने वाला कमीशन और अन्य लाभ उनकी मासिक कमाई को लाखों में पहुँचा देते हैं। यह न केवल डीलरों के लिए बल्कि पूरे ऑटो सेक्टर के लिए एक सुनहरा अवसर है।

ब्रांड और मॉडल का महत्व

यह दिलचस्प है कि स्कूटरों के डीलरों को मिलने वाला कमीशन न केवल बिक्री की मात्रा पर निर्भर करता है बल्कि विभिन्न ब्रांडों और मॉडलों पर भी। अलग-अलग कंपनियाँ अपने प्रोडक्ट्स पर विभिन्न ऑफर और कमीशन देती हैं, जिससे डीलरों की कमाई में बड़ा अंतर आता है।

अतिरिक्त सेवाओं से आय

स्कूटर बिक्री से डीलरों को होने वाला लाभ केवल बिक्री तक सीमित नहीं होता। जब एक स्कूटर बिकता है, तो उसके बीमा अतिरिक्त एसेसरीज लगवाने और सर्विसिंग से भी डीलरों को अच्छा खासा मुनाफा होता है। इस प्रकार ऑटो सेक्टर में डीलरों के पास कमाई के कई स्रोत होते हैं।