home page

अमेरिका में एक किलो आलू की कितनी है कीमत, रेट भी ऐसे की कई किलो सेब और संतरे आ जाएंगे

आलू (Potato) हमारे देश में तो लगभग हर घर में प्रतिदिन की थाली का हिस्सा होता है, लेकिन विदेशों (Foreign Countries) में भी इसकी खपत कम नहीं है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) में तो आलू की खेती...
 | 
Potato price in america

आलू (Potato) हमारे देश में तो लगभग हर घर में प्रतिदिन की थाली का हिस्सा होता है, लेकिन विदेशों (Foreign Countries) में भी इसकी खपत कम नहीं है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) में तो आलू की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है, जिससे भारत (India) में इसकी विविधता और समृद्धि देखी जा सकती है।

आलू, जो कि एक सामान्य सब्जी है, वैश्विक स्तर पर इसकी मांग और कीमतें इसकी विविधता और महत्व को दर्शाती हैं। भारत और अमेरिका में इसके दामों में भारी अंतर न केवल आर्थिक विविधता (Economic Diversity) को दर्शाता है बल्कि यह भी संकेत देता है कि कैसे एक सामान्य सब्जी विभिन्न भौगोलिक (Geographical) और आर्थिक परिस्थितियों में विभिन्न रूप ले सकती है।

भारत बनाम अमेरिका में आलू के दाम

भारत में आलू के भाव (Potato Prices) इसके प्रकार और साइज पर निर्भर करते हैं, जिसके चलते बाजार में 10 से लेकर 40 रुपये किलो तक आलू मिल जाते हैं। वहीं, अमेरिका (USA) में इसकी कीमत सुनकर हैरानी होती है, जहां एक किलो आलू की कीमत लगभग 3.01 डॉलर (Dollar) यानी करीब 250 रुपये होती है।

आलू की प्रजातियाँ और उनकी कीमतें

आलू कई प्रकार के होते हैं, जैसे लाल (Red), सफेद (White), पीले (Yellow) और बैंगनी (Purple)। इन प्रजातियों की कीमतें भी अलग-अलग होती हैं, जिनमें लाल आलू आमतौर पर सबसे सस्ते होते हैं, जबकि बैंगनी आलू सबसे महंगे माने जाते हैं।

आलू के भाव में अंतर के कारण

आलू के भाव में भारत और अमेरिका के बीच इतना बड़ा अंतर विभिन्न कारणों (Reasons) से हो सकता है। प्रमुख रूप से, खेती की लागत (Farming Cost), परिवहन शुल्क (Transportation Fee), और बाजार में मांग और आपूर्ति (Demand and Supply) के सिद्धांत इसमें योगदान देते हैं।