home page

गाड़ी का टैक्स अभी भी पेंडिंग है तो जल्दी भरने में है फायदा, वरना RTO आपका नाम कर सकता है सार्वजनिक

आज के समय में वाहन टैक्स का बकाया रखना आपके लिए मुश्किलों का सबब बन सकता है। परिवहन विभाग द्वारा बकाया टैक्स वसूली के लिए उठाए गए कड़े कदमों से यह साफ होता है। 500 बड़े बकायेदारों के नाम सार्वजनिक...
 | 
Vehicle Tax Not Deposited Public Name
   

आज के समय में वाहन टैक्स का बकाया रखना आपके लिए मुश्किलों का सबब बन सकता है। परिवहन विभाग द्वारा बकाया टैक्स वसूली के लिए उठाए गए कड़े कदमों से यह साफ होता है। 500 बड़े बकायेदारों के नाम सार्वजनिक करने का निर्णय इसी दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इन बकायेदारों की सूची आरटीओ दफ्तरों की दीवारों पर चस्पा की जाएगी।

परिवहन विभाग की इस पहल से न केवल बकाया टैक्स की वसूली में मदद मिलेगी, बल्कि यह वाहन स्वामियों को भी एक सख्त संदेश देती है कि टैक्स की अदायगी में कोताही बरतने पर सख्त कदम उठाए जा सकते हैं। इससे वित्तीय अनुशासन और जिम्मेदारी की भावना को बढ़ावा मिलेगा।

नोटिस का वितरण और बकाया राशि

परिवहन विभाग ने 100 बड़े बकायेदारों के घरों पर नोटिस चस्पा करने का निर्णय लिया है। दून आरटीओ के अंतर्गत 16 हजार वाहन ऐसे हैं, जिन पर 59 करोड़ रुपये का टैक्स बकाया है। इसमें से तीन हजार वाहन ऐसे हैं, जिन पर एक लाख रुपये से अधिक का टैक्स बकाया है, जिनमें बस, टैक्सी, ट्रक, ऑटो, विक्रम, ई-रिक्शा और सिटी बस समेत सभी श्रेणी के कॉमर्शियल वाहन शामिल हैं।

वसूली प्रक्रिया में आ रही चुनौतियां

परिवहन विभाग ने बकायेदारों को वसूली पत्र भेजे हैं। लेकिन वित्तीय वर्ष के दौरान केवल आठ करोड़ रुपये की वसूली ही संभव हो पाई है। इस प्रक्रिया में वसूली पत्र के माध्यम से दो करोड़ रुपये की राशि जमा हुई है। लेकिन कुछ वसूली पत्र वापस भी आ रहे हैं। इस स्थिति में ऐसे वाहन स्वामियों के वाहन और घरों का सत्यापन किया जाएगा।

बकायेदारों तक पहुंचाई जाएगी नोटिस

परिवहन विभाग अब 100 बड़े बकायेदारों की सूची दफ्तर में चस्पा कर चुका है और 500 बकायेदारों की सूची तैयार की जा रही है, जिसे जल्द ही सार्वजनिक किया जाएगा। इसके अलावा बाइक स्क्वॉयड के माध्यम से 100 बड़े बकायेदारों के घरों पर नोटिस चस्पा करने की योजना है। यह कदम वाहन स्वामियों को अपने बकाया टैक्स जमा करने के लिए प्रेरित करेगा।