home page

कूलर खरीदने का सोच रहे है तो इन 5 जरुरी बातों का रखना ध्यान, वरना बाद में होगा पछतावा

गर्मियां अपने पूरी चरम पर हैं और इस दौरान हमारे घरों में ठंड देने वाले कूलर की मांग आसमान छूने लगती है। खासकर भारत के मध्यमवर्गीय परिवारों में जहां एयर-कंडिशनर की तुलना में कूलर को ज्यादा पसंद किया जाता है।
 | 
if-you-keep-these-five-things-in-mind
   

गर्मियां अपने पूरी चरम पर हैं और इस दौरान हमारे घरों में ठंड देने वाले कूलर की मांग आसमान छूने लगती है। खासकर भारत के मध्यमवर्गीय परिवारों में जहां एयर-कंडिशनर की तुलना में कूलर को ज्यादा पसंद किया जाता है। इसके पीछे मुख्य कारण है कूलर की कम कीमत और उपयोग में आसानी। लेकिन कूलर खरीदते समय कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि आप बेहतर विकल्प चुन सकें।

ठंडक का मापदंड

सबसे पहले कूलर की ठंडक की क्षमता को जांचें। यह देखें कि कूलर कितनी मात्रा में पानी लेता है और वह पानी कितनी देर तक चलता है। एक अच्छा कूलर वह होता है जो कम पानी में अधिक ठंडक प्रदान करे।

सामग्री का चयन 

कूलर खरीदते समय सामग्री पर भी विचार करें। प्लास्टिक के कूलर को प्राथमिकता दें क्योंकि लोहे के कूलर ज्यादा बिजली की खपत करते हैं, ज्यादा आवाज करते हैं, और जंग की समस्या से ग्रस्त हो सकते हैं।

आवाज और वजन

कूलर की आवाज और वजन को भी महत्व दें। कम आवाज करने वाले कूलर शांत वातावरण में योगदान देते हैं वहीं हल्के कूलर को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना आसान होता है।

कूलिंग पैड्स का महत्व

आधुनिक कूलर्स में उपयोग किए जा रहे हनीकॉम्ब कूलिंग पैड्स पर विशेष ध्यान दें। ये पैड्स लंबे समय तक चलते हैं और हर साल इन्हें बदलने की आवश्यकता नहीं पड़ती जिससे दीर्घकालिक में आपकी लागत भी बचती है।

यह भी पढ़ें; हरियाणा रोडवेज के ड्राइवर ने बस चलाते वक्त दिखाया अनोखा स्वैग, ड्राइवर के हाथ में हुक्का देख लोगों ने बोली ये बात

कीमत का संतुलन

अंत में, कीमत पर भी विचार करें। हमेशा यह न सोचें कि महंगा कूलर ही बेहतर होगा। कई बार, सस्ते कूलर भी आपकी आवश्यकताओं को पूरा कर सकते हैं बशर्ते उपरोक्त मानदंडों पर खरे उतरें।