home page

दुबई घूमने जाए तो कितना सोना लाने की है लिमिट, अगर इस लिमिट से ज्यादा हुआ तो हो सकती है दिक्क्त

दुबई जिसे दुनिया गोल्ड सिटी के रूप में जानती है। दुबई ने सोने के कारोबार में अपनी एक खास पहचान बनाई है। इस शहर में सोने की उपलब्धता और उसके मूल्य ने न केवल स्थानीय लोगों बल्कि विश्व भर से आने वाले प्रवासियों...
 | 
Import Duty On Gold In Dubai
   

दुबई जिसे दुनिया गोल्ड सिटी के रूप में जानती है। दुबई ने सोने के कारोबार में अपनी एक खास पहचान बनाई है। इस शहर में सोने की उपलब्धता और उसके मूल्य ने न केवल स्थानीय लोगों बल्कि विश्व भर से आने वाले प्रवासियों और पर्यटकों को भी आकर्षित किया है।

दुबई से सोना खरीदने और भारत लाने की प्रक्रिया में नियमों का पालन करना जरूरी है। यह सुनिश्चित करता है कि सोने के आयात में नैतिकता और कानून का पालन हो। इससे न केवल व्यक्तिगत लाभ होगा बल्कि देश की आर्थिक सुरक्षा को भी बढ़ावा मिलेगा।

दुबई मे सोने का कारोबार

दुबई दक्षिण अफ्रीका से बड़ी मात्रा में कच्चा सोना खरीदता है और उसे शुद्ध करके दुनिया भर में बेचता है। इस प्रक्रिया से दुबई को न केवल आर्थिक लाभ होता है बल्कि यह उसकी वैश्विक पहचान को भी मजबूत करता है।

भारतीय प्रवासियों का दुबई में सोना खरीदने का चलन

दुबई में रहने वाले भारतीय प्रवासियों के लिए सोना खरीदना एक आकर्षक विकल्प है। यहां सोने की कम संभावित कीमतों और उच्च गुणवत्ता के कारण से दुबई से सोना खरीदना एक लाभकारी सौदा साबित होता है।

सोना लाने की सीमा और निर्देश

Central Board of Indirect Taxes and Customs ने दुबई से भारत में सोना लाने पर कुछ सीमाएं लगाई हैं। यह निर्देश सुनिश्चित करते हैं कि सोने के आयात पर नियंत्रण रहे और इसका दुरुपयोग न हो।

महिला और पुरुष के लिए सोना लाने की सीमा

दुबई से सोना लाने का लिमिट महिला और पुरुष के आधार पर निर्भर करता है। पुरुष 20 ग्राम तक और महिला 40 ग्राम तक सोना ला सकती है। जिसकी कीमत एक लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।

अतिरिक्त कस्टम चार्ज की स्थिति

अगर कोई व्यक्ति दुबई में 6 महीने से कम समय बिताकर सोना लाता है, तो उसे 36.05% का अतिरिक्त कस्टम चार्ज देना होगा। यूएई से भारत आने वाला यात्री दस किलो से अधिक सोना नहीं ला सकता और उस पर अतिरिक्त चार्ज लगेगा।