home page

गैस कनेक्शन ले रखा है तो बिना किसी देरी के तुरंत करवा ले ये काम, वरना नही मिलेगा गैस सिलेंडर

केंद्र सरकार ने राशन कार्ड के बाद अब एलपीजी कनेक्शन के लिए भी ई-केवाईसी की प्रक्रिया अनिवार्य कर दी है। इस कदम का उद्देश्य धोखाधड़ी को रोकना और सब्सिडी का सही वितरण के बारे में बताता है।
 | 
gas-kyc-online
   

केंद्र सरकार ने राशन कार्ड के बाद अब एलपीजी कनेक्शन के लिए भी ई-केवाईसी की प्रक्रिया अनिवार्य कर दी है। इस कदम का उद्देश्य धोखाधड़ी को रोकना और सब्सिडी का सही वितरण के बारे में बताता है। सरकार ने इसके लिए निश्चित तिथियां तय की हैं जिसके अनुसार सभी उपभोक्ताओं को 31 मई तक अपना ई-केवाईसी पूरा करना होगा।

गैस एजेंसी संचालकों का निर्देश

लोकसभा चुनाव से पहले ई-केवाईसी न करवा पाने वाले उपभोक्ताओं को गैस एजेंसी संचालकों ने दोबारा मौका दिया है। यदि 31 मई तक उपभोक्ता ई-केवाईसी पूरी नहीं करते हैं तो उन्हें जून से सिलेंडर मिलने में समस्या हो सकती है। इसके अलावा उज्जवला योजना के लाभार्थी जो ई-केवाईसी नहीं कराते हैं उनकी सब्सिडी भी बंद हो सकती है।

ई-केवाईसी प्रक्रिया का संचालन

दिसंबर में जारी सरकारी आदेश के अनुसार गैस उपभोक्ताओं को ई-केवाईसी कराने के लिए कहा गया था। अब तक लगभग 50% उपभोक्ताओं ने ही इसे पूरा किया है। शेष उपभोक्ताओं को जल्द से जल्द इसे पूरा करने की जरूरत है। गैस वितरकों ने अपने-अपने क्षेत्रों में ई-केवाईसी के लिए विशेष काउंटर बनाए गए हैं।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

ई-केवाईसी के लिए आवश्यक दस्तावेज

गैस वितरण एजेंसियों द्वारा लगाई गई इंप्रेशन मशीनों के माध्यम से ई-केवाईसी करने का काम चल रहा है। इस प्रक्रिया के लिए उपभोक्ताओं को अपनी गैस पासबुक, आधार कार्ड, और बैंक खाता पासबुक की प्रतियां लानी अनिवार्य हैं। इसके साथ ही उपभोक्ता को खुद उपस्थित होना आवश्यक है ताकि सटीक वेरिफिकेशन की जा सके।