home page

AC लेना है तो Split और Window में से कौनसा रहेगा सही, जाने क्या होता है खास अंतर

गर्मियों की शुरुआत हो चुकी है और सूरज की तपिश से बचने के लिए लोग अब एयर कंडीशनर (AC) लगवाने की ओर अग्रसर हैं। तापमान में लगातार वृद्धि के साथ AC अब एक आवश्यकता बन चुकी है।

 | 
split ac vs inverter a
   

गर्मियों की शुरुआत हो चुकी है और सूरज की तपिश से बचने के लिए लोग अब एयर कंडीशनर (AC) लगवाने की ओर अग्रसर हैं। तापमान में लगातार वृद्धि के साथ AC अब एक आवश्यकता बन चुकी है।

बाजार में उपलब्ध मुख्य दो प्रकार के एयर कंडीशनर स्प्लिट और विंडो AC के बीच चयन करना कई बार उपभोक्ताओं के लिए कठिन हो सकता है। आइए देखते हैं कि कौन सा AC आपके लिए उपयुक्त रहेगा।

ये भी पढ़िए :- OnePlus 11 5G खरीदने वालों के लिए कम्पनी ने दी गुड न्यूज, अभी खरीदने पर मिल रहा है तगड़ा डिस्काउंट

स्प्लिट AC की विशेषताएं और लाभ

स्प्लिट AC में कंप्रेसर यूनिट बाहर लगाई जाती है जबकि ब्लोअर यूनिट अंदर होती है। यह व्यवस्था स्प्लिट AC को विंडो AC की तुलना में कम शोर करने वाली बनाती है। स्प्लिट AC अधिक ऊर्जा कुशल होते हैं।

इनमें आधुनिक फीचर्स जैसे एयर प्यूरीफायर इनवर्टर टेक्नोलॉजी और ह्यूमिडिटी कंट्रोल भी मिलते हैं। इनकी स्थापना में लचीलापन होता है और ये बड़े कमरों को अधिक प्रभावी ढंग से ठंडा कर सकते हैं।

Air-conditioners-AC

ये भी पढ़िए :- पिता के साथ बाइक पर सवार छोटे बच्चे ने पहन रखा था हेलमेट, पुलिस ने बाइक रुकवाई और दिया खास गिफ्ट

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

छोटे कमरों के लिए विंडो AC की उपयोगिता

विंडो AC जैसा कि नाम से जाहिर है खिड़की में लगाए जाते हैं और इनका इंस्टॉलेशन अपेक्षाकृत सरल होता है। ये AC उन कमरों के लिए उपयुक्त होते हैं जहाँ जगह कम होती है या जहाँ एक ही यूनिट में पूरे AC की आवश्यकता होती है।

विंडो AC की लागत स्प्लिट AC की तुलना में कम होती है और ये छोटे कमरों के लिए काफी प्रभावी होते हैं। हालांकि इनमें शोर का स्तर अधिक होता है और ऊर्जा की खपत भी स्प्लिट AC की तुलना में अधिक हो सकती है।