home page

पति की गैर मौजूदगी में पड़ोस के सात साल छोटे लड़के से बनाए संबंध, अब लड़के ने महिला के सामने रख दी ये डिमांड

मैं 29 वर्ष की शादीशुदा महिला हूँ। मेरे विवाह को छह वर्ष हो चुके हैं। मैं भी एक पांच साल की बेटी रखता हूँ। मैं अपने पति से लव मैरिज की थी, जो मुझसे 12 साल बड़ा है। मैं अपनी शादीशुदा जिंदगी से तंग आ गई हूँ।
 | 
why extra marital affairs could be right
   

मैं 29 वर्ष की शादीशुदा महिला हूँ। मेरे विवाह को छह वर्ष हो चुके हैं। मैं भी एक पांच साल की बेटी रखता हूँ। मैं अपने पति से लव मैरिज की थी, जो मुझसे 12 साल बड़ा है। मैं अपनी शादीशुदा जिंदगी से तंग आ गई हूँ। दरअसल शादी के पहले एक या दो साल तक हमारे बीच सब कुछ ठीक रहा, लेकिन धीरे-धीरे मेरे पति का स्वभाव बदलने लगा।

छोटी-छोटी बातों पर उन्हें गुस्सा आता है। वह मुझ पर बार-बार चिल्लाते रहते हैं। उनके इस व्यवहार से मेरा उनसे मन हटने लगा। उस समय मुझसे सात साल छोटा एक लड़का हमारे पास रहता था। हम दोनों पहले अच्छे दोस्त थे, लेकिन बाद में हमारी दोस्ती प्यार में बदल गई। ऐसा शायद इसलिए था कि मैं उससे बात करके खुश हो गया था।

उसके साथ होने पर मुझे बहुत खुशी हुई। यही कारण है कि मैं कभी भी उसके इरादे को समझ नहीं पाया। दरअसल हम दोनों के बीच शुरू में सब कुछ सही रहा। वह मुझे बहुत कुछ देता था। वह बहुत सी चीजों को लेकर मेरी मदद करता था। मैं भी उसके बुरे वक्त में काम आती थी। लेकिन एक दिन उसने मेरे सामने पैसों की डिमांड रख दी।

उसने इस बार सिर्फ एक हजार रूपए मांगे थे, लेकिन बाद में उसकी मांग बढ़ी। दरअसल जब उसे पैसे चाहिए थे, वह मुझ पर बहुत प्यार दिखाता था; अगर नहीं, तो उसने मुझसे दूरी बनानी शुरू कर दी होती। मैं भी उससे अलग होना चाहती हूं, लेकिन अब वह मुझे धमका रहा है।

वह कहता है कि अगर मैंने उसे पैसे नहीं दिए, तो वह मेरे पति को हमारे रिश्ते की पूरी जानकारी देगी। इस बात से मैं बहुत परेशान हूँ। वह अपने उम्र की लड़कियों के चक्कर मे है। मैंने इस बारे में बात करने की कोशिश की तो उसने कहा कि वह मुझसे प्यार करता है, लेकिन शादी नहीं कर सकता।

मैं आपसे छिपाना नहीं चाहती कि वह मेरी कुछ निजी तस्वीरें भी रखता है, जिन्हें लेकर मुझे डर लगता है कि वह उन्हें लीक कर सकता है। आप मुझे बताएं कि मैं इससे कैसे बाहर निकलूँ। 

एक्सपर्ट का उत्तर

जयपुर में मनोवैज्ञानिक परामर्श केंद्र की संस्थापक और ऑल इंडिया जैन डॉक्टर्स फोरम की कार्यकारी सदस्य डॉ. अनामिका पापड़ीवाल कहती हैं कि पति-पत्नी का रिश्ता आपसी सामंजस्य से चलता है, जिसे दोनों ने झुककर निभाना ही होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस रिश्ते को संभालना तभी संभव है।

आपने प्रेम विवाह यानी अपनी पसंद से शादी की थी, लेकिन आपने यह नहीं समझा कि प्रेम विवाह से शादी में बहुत अंतर होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि प्यार में व्यक्ति आपके अनुकूल होता है। लेकिन जब प्यार शादी में बदल जाता है, तो एक बड़ी जिम्मेदारी भी जुड़ जाती है।

आपने बताया कि आपकी भी एक पांच वर्ष की बेटी है। इसका अर्थ है कि आप दोनों के पास बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। ऐसे में मुझे लगता है कि आप दोनों का समय कम हो सकता है। लेकिन आप एक दूसरे को समझने और प्यार से जो भी समय बिताते हैं, तो आपका रिश्ता कभी भी खराब नहीं होगा। 

अपनी गलती को स्वीकार करना

जैसा कि आपने बताया, पिछले कुछ समय से आपके पति का व्यवहार गुस्से और चिड़चिड़ा हो गया है। ऐसे में मैं आपसे यही कहूँगा कि इसका कोई कारण अवश्य होगा। पहले कारण खोजें। वहीं बाहर जाकर अपने पति के साथ समय बिताने पर ध्यान दें।

मैं आपको ऐसा करने के लिए भी कह रहा हूँ क्योंकि जब आपको अपनी गलती का एहसास हो ही गया है, तो बिगड़ी बातों को संभालना बहुत आसान नहीं है। आप चाहें तो अपने पति को बता सकती हैं कि उनकी अनियमित व्यवहार ने आपको दूसरे लड़के से संपर्क में लाया है।

ऐसा करने से दो लाभ होंगे: पहला आप जिस लड़के से ब्लैकमेल हो रहे हैं, उससे मुक्त हो जाएंगे, और दूसरा आप अभी डर की स्थिति से दूर हो जाएंगे। सारी सच्चाई जानने के बाद आपके पति आपसे बहुत नाराज हो जाएं; फिर भी उन्हें बताओ कि आपको अपने किए पर बहुत पछतावा है। 

पति को सहायता देने में कोई बुराई नहीं है

आपको अपनी जिम्मेदारियों को समझने के साथ-साथ अपनी गलती को भी मानना होगा। आपको भी अपनी बेटी के प्रति अपने कर्तव्यों को पूरा करना होगा। हां इस दौरान आपको बहुत संयम से काम लेना होगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि आपका विश्वास टूटा है, इसलिए उसे फिर से जुड़ने में समय लगेगा।

लापरवाही किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। आपको दूसरे काम करने की कोशिश करनी चाहिए। आपके पति को शायद घर की आर्थिक स्थिति को संभालने के लिए बहुत अधिक काम करना पड़ रहा हो, जिससे वह भी तनाव में जी रहे हो।

ऐसे में अपने पति की आर्थिक स्थिति को सुधारने में उनकी मदद करना बहुत महत्वपूर्ण है। अपने समय को कुछ प्रोफेशनल कामों में लगाएं। जब आप अपने पति को आर्थिक रूप से सहायता देंगे, तो आप दोनों को एक-दूसरे के साथ समय बिताने का अवसर मिलेगा और धीरे-धीरे स्थिति सुधरने लगेगी। 

उस लड़के के खिलाफ कार्रवाई करें

मैं मानता हूँ कि आपको अपनी हालत से बाहर आने में कुछ समय लगेगा। लेकिन फिर भी निराश मत होइए। ईमानदारी से अपने पति से सारी बातें बताने से सामने वाले लड़के को भी पता चलेगा कि अब उसकी दाल गलने वाली नहीं है। आप अपने पति के साथ मिलकर उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा सकते हैं।

अगर वह आपको परेशान करता है या आपकी तस्वीरें वायरल करने की धमकी देता है। आप चाहें तो किसी महिला थाने पर जाकर अतिरिक्त मदद ले सकते हैं। आप अपने परिवार या एक पेशेवर मनोचिकित्सक से संपर्क कर सकते हैं अगर बात आपके और आपके पति के बीच रिश्तो में फिर से समझौता करने की है।