home page

Indian Railway: भारतीय रेल्वे की तरफ से हरियाणा के लोगों को मिली बड़ी खुशखबरी, 20 हजार करोड़ रुपये की लागत से इन जिलों में बनेगे नए स्टेशन

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने 1 फरवरी को अंतरिम बजट (Interim Budget) पेश किया, जिसमें भारतीय रेलवे (Indian Railways) को विशेष रूप से बढ़ावा दिया गया है।
 | 
haryana railway project

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने 1 फरवरी को अंतरिम बजट (Interim Budget) पेश किया, जिसमें भारतीय रेलवे (Indian Railways) को विशेष रूप से बढ़ावा दिया गया है। इस बजट के दौरान, हरियाणा (Haryana) में रेलवे परियोजनाओं (Railway Projects) के लिए बजट में नौ गुना वृद्धि की गई है, जो कि एक बड़ी खुशखबरी है।

इस अंतरिम बजट में रेलवे परियोजनाओं के लिए की गई घोषणाएँ हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के विकास की नई राह खोलेंगी। राज्यों में रेलवे बजट (Railway Budget) में हुई वृद्धि से न केवल यात्री सुविधाएं बेहतर होंगी बल्कि यह आर्थिक विकास (Economic Development) में भी योगदान देगी।

हरियाणा के लिए खुशखबरी: 34 स्टेशनों का निर्माण

अमृत भारत योजना (Amrit Bharat Scheme) के तहत हरियाणा में 20,000 करोड़ रुपये की लागत से 34 स्टेशनों (Stations) का निर्माण किया जा रहा है। 2009 से 2014 तक रेलवे को मात्र 315 करोड़ रुपये दिए गए थे, लेकिन इस वर्ष बजट में 2,861 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

बढ़ते बजट और रेलवे की उन्नति

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnaw) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (VC) के माध्यम से अंबाला (Ambala) सहित कई मंडलों के अधिकारियों से बातचीत कर हरियाणा में चल रही रेलवे योजनाओं पर चर्चा की।

पिछले वर्षों में मिला कम बजट

2009-14 के बीच, कश्मीर (Kashmir), हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh), और उत्तराखंड (Uttarakhand) में रेलवे परियोजनाओं के लिए बहुत कम बजट मिला था। एक किलोमीटर लंबी सुरंग (Tunnel) बनाने की लागत 200 करोड़ रुपये थी, जिसके लिए मात्र 108 करोड़ रुपये का बजट दिया गया था।

हिमाचल प्रदेश में बढ़ता विकास

वर्तमान भाजपा सरकार (BJP Government) ने हिमाचल प्रदेश में 22 अंडरपास/फ्लाईओवर (Underpasses/Flyovers) का निर्माण करवाया है और चार स्टेशनों को अमृत भारत स्टेशनों (Amrit Bharat Stations) में बदला गया है।