home page

इस राज्य में होली पर 3 दिनों में 43 करोड़ रुपए की बिक गई शराब, होलिका दहन वाले दिन की बिक्री आपके होश उड़ा देगी

छत्तीसगढ़ में होली के त्यौहार ने इस बार शराब प्रेमियों के बीच एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। होली के अवसर पर प्रदेशभर में मदिरा के शौकीनों ने तीन दिनों में करोड़ों रुपए की देशी और विदेशी शराब की खपत की है।
 | 
Sale of Liquor in Chhattisgarh
   

छत्तीसगढ़ में होली के त्यौहार ने इस बार शराब प्रेमियों के बीच एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। होली के अवसर पर प्रदेशभर में मदिरा के शौकीनों ने तीन दिनों में करोड़ों रुपए की देशी और विदेशी शराब की खपत की है। यह घटना हमें इस त्यौहार के दौरान उपभोग की प्रवृत्ति की एक झलक प्रदान करती है।

शराब बिक्री में ऐतिहासिक वृद्धि

छत्तीसगढ़ आबकारी विभाग के आंकड़ों के मुताबिक होलिका दहन के दिन एक ही दिन में सबसे ज्यादा शराब की बिक्री हुई है। प्रदेश में होली के दौरान कुल 43 करोड़ रुपए की शराब की खपत हुई है, जो कि एक चौंकाने वाला आंकड़ा है। इसमें सबसे अधिक बिक्री होलिका दहन के दिन हुई, जब 20 करोड़ रुपए की शराब खरीदी गई।

शराब दुकानों पर प्रशासन की पाबंदी

होली के त्यौहार को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने होली के दिन सभी शराब दुकानों को बंद रखने का निर्णय लिया था। इसके लिए प्रशासन ने कड़े निर्देश जारी किए थे। लेकिन लगता है कि शराब प्रेमियों ने अपनी तैयारी पहले से ही कर रखी थी, जिसके कारण बिक्री में इतनी वृद्धि हुई।

समाज पर पड़ने वाले प्रभाव

इस घटना से एक ओर जहां शराब की बिक्री में वृद्धि का पता चलता है, वहीं यह हमें समाज पर इसके प्रभाव के बारे में भी सोचने को मजबूर करता है। शराब के अत्यधिक सेवन से न केवल स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है, बल्कि यह सड़क हादसों और अन्य सामाजिक समस्याओं का कारण भी बन सकता है।