home page

1 अप्रैल से LPG सिलेंडर पर मिलेगी 300 रुपए की छूट, इन करोड़ों लोगों को होगा सीधा फायदा

एक अप्रैल से नए वित्तीय वर्ष के आरंभ होने के साथ ही भारत सरकार ने आम नागरिकों के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। इस वर्ष की सबसे बड़ी घोषणाओं में से एक प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) के लाभार्थियों को दी...
 | 
ujjwala beneficiarie
   

एक अप्रैल से नए वित्तीय वर्ष के आरंभ होने के साथ ही भारत सरकार ने आम नागरिकों के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। इस वर्ष की सबसे बड़ी घोषणाओं में से एक प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) के लाभार्थियों को दी जाने वाली सब्सिडी में विस्तार है।

सब्सिडी की अवधि में विस्तार

सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत लाभार्थियों को मिलने वाली सब्सिडी की अवधि को 31 मार्च 2024 से बढ़ाकर 31 मार्च 2025 तक कर दिया है। यह निर्णय उन लाखों परिवारों के लिए राहत की सांस लेकर आया है जो इस योजना के तहत एलपीजी सिलेंडर पर 300 रुपये की सब्सिडी का लाभ उठा रहे थे।

वार्षिक सब्सिडी और लाभ

पीएमयूवाई के अंतर्गत लाभार्थियों को एक वित्तीय वर्ष में 12 एलपीजी सिलेंडरों पर 300 रुपये प्रति सिलेंडर की सब्सिडी प्रदान की जाती है। यह सब्सिडी सीधे उनके बैंक खातों में जमा की जाती है, जिससे वे बाजार मूल्य की तुलना में सिलेंडर को 300 रुपये सस्ता प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के तहत सरकार का कुल खर्च 12,000 करोड़ रुपये अनुमानित है।

उज्ज्वला योजना

मई 2016 में शुरू की गई प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना ने ग्रामीण और वंचित गरीब परिवारों को ध्यान में रखा है। 1 मार्च, 2024 तक इस योजना के 10.27 करोड़ से अधिक लाभार्थी हैं। यह योजना विशेष रूप से उन परिवारों के लिए लाभकारी सिद्ध हुई है, जो धुएं से मुक्त रसोई की सुविधा चाहते हैं।

लाभार्थियों की बढ़ती संख्या और सरकारी पहल

उज्ज्वला योजना के तहत लाभार्थियों की खपत में वृद्धि देखी गई है। 2019-20 में औसत एलपीजी खपत 3.01 रिफिल से बढ़कर 2023-24 के लिए आनुपातिक रूप से 3.87 रिफिल (जनवरी 2024 तक) हो गई है। इसके अलावा महिला दिवस पर एलपीजी सिलेंडर को 100 रुपये सस्ता करके सरकार ने यह संदेश दिया कि वह नागरिकों की सुविधा और भलाई के लिए प्रतिबद्ध है।