home page

UP में बढ़ती हीट के कारण पारा पहुंचा 45 के पार, इन जिलों में जल्द ही हो सकती है बारिश

उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी और तेज धूप ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। प्रदेश के कई हिस्सों में लू के प्रकोप से लोग बेहाल हैं। गर्म हवाओं और चिलचिलाती धूप ने जीवन की रफ्तार धीमी कर दी है।
 | 
uttar pradesh weather 7-may
   
WhatsApp Group Join Now

उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी और तेज धूप ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। प्रदेश के कई हिस्सों में लू के प्रकोप से लोग बेहाल हैं। गर्म हवाओं और चिलचिलाती धूप ने जीवन की रफ्तार धीमी कर दी है। सोमवार को चित्रकूट में 45 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकॉर्ड हुआ, जो प्रदेश में सबसे ज्यादा था।

आगरा में 44 डिग्री, कानपुर और प्रयागराज में भी तापमान 44 डिग्री तक पहुंच गया। वाराणसी और सुल्तानपुर में 43 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उत्तर प्रदेश में आने वाले दिनों में बारिश और तूफान से गर्मी से राहत मिलने की संभावना है।

हालांकि लोगों को संभावित जोखिमों के प्रति सावधानी बरतनी चाहिए। सही तैयारी और एहतियात से लोग इस मौसम के मिजाज को बेहतर ढंग से संभाल सकते हैं।

लखनऊ का मौसम

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मौसम का मिजाज बदलने के आसार हैं। 8 मई से 12 मई के बीच यहां बारिश और तेज हवाओं के साथ गरज-चमक होने की संभावना है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार बारिश से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिल सकती है। हालांकि तेज हवाओं और गरज-चमक से संभावित नुकसान के प्रति भी सावधान रहना होगा।

प्रदेश के अन्य जिलों में बारिश की संभावना

आगरा, अलीगढ़, अयोध्या, आजमगढ़, बागपत, बहराइच, बलिया, बाराबंकी, बरेली, भदोही, बिजनौर, बुलंदशहर, चंदौली, चित्रकूट, देवरिया, इटावा, फतेहपुर, फुरसतगंज, गाजियाबाद, गाजीपुर, गोरखपुर, हरदोई, जौनपुर, झांसी, कन्नौज, कानपुर, कुशीनगर, लखीमपुर, मथुरा, मेरठ, वाराणसी, प्रयागराज, नोएडा और मुजफ्फरनगर में भी गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक इन जिलों में 7 से 12 मई के बीच बारिश की संभावना है। जिससे गर्मी से जूझ रहे लोगों को राहत मिलेगी।

पूर्वोत्तर भारत में प्री-मानसून गतिविधियां

स्काईमेट के अनुसार पूर्वोत्तर भारत में प्री-मानसून गतिविधियों की शुरुआत होने के संकेत मिले हैं। इससे पूर्वी और उत्तर-पूर्वी भारत के कई राज्यों में अच्छी बारिश होने के आसार हैं। 7 से 10 मई के बीच पूर्वी उत्तर प्रदेश में गरज और बिजली के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग की सलाह

मौसम विभाग ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के स्थानीय लोगों को तूफान और बिजली से सावधानी बरतने की सलाह दी है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में लोगों को तेज हवाओं और गरज-चमक के समय घर के अंदर रहने और अनावश्यक रूप से बाहर न जाने की सलाह दी गई है। साथ ही फसल की सुरक्षा के लिए किसानों को भी आवश्यक उपाय करने की सिफारिश की गई है।