home page

दुबई और सिंगापुर की तर्ज पर हरियाणा में बसाए जाएंगे नए शहर, लोगों को मिलेगी आरामदायक और सुकूनभरी ज़िंदगी

हरियाणा के विकास की राह में एक नई और महत्वाकांक्षी परियोजना का आरंभ होने जा रहा है। सरकार ने कुंडली मानेसर पलवल (केएमपी) एक्सप्रेसवे के किनारे एक नए शहर को बसाने की योजना बनाई है।
 | 
must visited cities in haryana
   

हरियाणा के विकास की राह में एक नई और महत्वाकांक्षी परियोजना का आरंभ होने जा रहा है। सरकार ने कुंडली मानेसर पलवल (केएमपी) एक्सप्रेसवे के किनारे एक नए शहर को बसाने की योजना बनाई है।

जिसका उद्देश्य दुबई और सिंगापुर जैसे वैश्विक शहरों के समान एक अद्वितीय और आधुनिक शहरी अनुभव प्रदान करना है। इस नए शहर का निर्माण 18 लाख लोगों की आवासीय जरूरतों को ध्यान में रखकर किया जाएगा।

एक विशाल योजना की शुरुआत

इस भव्य परियोजना के लिए हरियाणा सरकार ने गुड़गांव से सटे क्षेत्र में 50 हजार हेक्टेयर जमीन की खोज शुरू कर दी है। यह नया शहर न केवल आवासीय सुविधाओं को बल्कि इंडस्ट्रियल, प्रोफेशनल और कमर्शियल क्षेत्रों को भी समाहित करेगा। जिससे यहां रहने वाले लोगों को एक संपूर्ण और सुविधाजनक जीवनशैली प्रदान की जा सके।

वैश्विक विचारधारा के संगम

हरियाणा के पूर्व उपमुख्यमंत्री और ब्रिटेन के डिप्टी हाई कमिश्नर की हाल ही में हुई बैठक ने इस योजना को एक नई दिशा प्रदान की। इस बैठक का मुख्य उद्देश्य नए शहर को सिंगापुर और दुबई जैसे शहरों के तर्ज पर विकसित करना था। जहाँ आधुनिकता और प्रकृति एक साथ फल-फूल सकें।

नई सुविधाओं की भरमार

इस नए शहर की सबसे बड़ी खूबी इसका इको-फ्रेंडली और ग्रीन चरित्र होगा। शहर के हर सेक्टर में शॉपिंग मॉल, अंडरपास और एलिवेटेड रोड्स के साथ-साथ विश्वस्तरीय विश्वविद्यालयों की भी स्थापना की जाएगी।

यही नहीं नगर नियोजन में पैदल ट्रैक और साइकिल ट्रैक का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा। इसके अलावा नए शहर में ई-व्हीकल और सौर ऊर्जा को प्राथमिकता देने का प्रावधान है, जो इसे एक पर्यावरण-अनुकूल और स्थायी विकास मॉडल बनाएगा।