home page

अब आर्मी के जवानों की दिखेगी हिरोगिरी, दाढ़ी बढ़ाने को लेकर मिली खुली छूट

ब्रिटिश आर्मी में जवानों के लिए एक नई और आधुनिक पहल की गई है, जिसके तहत उन्हें दाढ़ी बढ़ाने की छूट दी गई है। यह निर्णय सेना में आधुनिकता और समकालीन जीवनशैली के प्रतिबिंब के रूप में देखा जा रहा है।
 | 
British Army soldiers
   

ब्रिटिश आर्मी में जवानों के लिए एक नई और आधुनिक पहल की गई है, जिसके तहत उन्हें दाढ़ी बढ़ाने की छूट दी गई है। यह निर्णय सेना में आधुनिकता और समकालीन जीवनशैली के प्रतिबिंब के रूप में देखा जा रहा है।

नए नियम और उनकी विशेषताएं

हालांकि इस नए निर्णय के साथ कुछ नियम भी जुड़े हुए हैं। जवानों को अपनी दाढ़ी प्राकृतिक रंग में ही रखनी होगी और उसे एक नार्मल और स्वीकार्य तरीके से बनाए रखना होगा। इसका मतलब है कि वे फ्रेंच कट जैसी विशिष्ट शैली में दाढ़ी नहीं रख सकते हैं और न ही दाढ़ी को विभिन्न रंगों से डाई कर सकते हैं।

ब्रिटिश आर्मी में बदलाव की दिशा

पिछले 100 वर्षों से अधिक समय से ब्रिटिश आर्मी में सख्त नियम थे कि सैनिक बड़े बाल और दाढ़ी नहीं रख सकते। लेकिन अब यह नियम खत्म हो गया है, जो कि एक महत्वपूर्ण परिवर्तन है। इसे किंग चार्ल्स की मंजूरी मिलने की प्रतीक्षा है, जो ब्रिटिश आर्मी के कमांडर-इन-चीफ हैं।

दाढ़ी रखने की शर्तें और उनका महत्व

सैनिकों को दी गई छूट के साथ कुछ शर्तें भी हैं, जिनमें दाढ़ी की साफ-सफाई और उसकी देखभाल का ध्यान रखना शामिल है। समय-समय पर अधिकारियों द्वारा दाढ़ी की समीक्षा की जाएगी, जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी नियमों का पालन हो रहा है।

युवाओं की बढ़ती रुचि और ब्रिटिश आर्मी की नई दिशा

नए नियमों को लाने के पीछे का मुख्य कारण युवाओं की ब्रिटिश आर्मी के प्रति रुचि बढ़ाना है। इससे उम्मीद है कि भविष्य में अधिक युवा सेना में शामिल होंगे और अपने देश की सेवा में योगदान देंगे।

यह परिवर्तन न सिर्फ आर्मी के भीतर आधुनिकता की ओर एक कदम है बल्कि यह भी दर्शाता है कि कैसे संस्थान युवा पीढ़ी के साथ अपने संबंधों को मजबूत कर रहे हैं।