home page

PAYTM ने अपनी इस कंपनी का बदल डाला नाम, जाने किस कारण लिया बड़ा फैसला

पेटीएम ई-कॉमर्स, जिसे अब पाई प्लेटफॉर्म्स (Pi Platforms) के नाम से जाना जाएगा, ने अपने ब्रांड नाम में महत्वपूर्ण परिवर्तन किया है। यह नाम परिवर्तन ऑनलाइन खुदरा कारोबार में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने की दिशा में...
 | 
paytm-e-commerce-name-changed

पेटीएम ई-कॉमर्स (Paytm e-Commerce), जिसे अब पाई प्लेटफॉर्म्स (Pi Platforms) के नाम से जाना जाएगा, ने अपने ब्रांड नाम में महत्वपूर्ण परिवर्तन किया है। यह नाम परिवर्तन ऑनलाइन खुदरा कारोबार (Online Retail Business) में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने की दिशा में एक रणनीतिक कदम है।

बिट्सिला (BitSila), जो कि ओएनडीसी (ONDC) पर एक सेलर प्लेटफॉर्म है, का अधिग्रहण इसी रणनीति का हिस्सा है। पेटीएम ई-कॉमर्स का पाई प्लेटफॉर्म्स में रूपांतरण और बिट्सिला का अधिग्रहण डिजिटल वाणिज्य (Digital Commerce) के क्षेत्र में एक नई दिशा और संभावनाओं की ओर इशारा करता है।

यह परिवर्तन न केवल कंपनी के लिए बल्कि छोटे विक्रेताओं और समग्र ई-कॉमर्स उद्योग (E-Commerce Industry) के लिए भी अनेक अवसर प्रदान करता है। पाई प्लेटफॉर्म्स की यह नई यात्रा निश्चित रूप से भविष्य में डिजिटल वाणिज्य के क्षेत्र में नवाचार (Innovation) और विकास (Growth) को आगे बढ़ाएगी।

सरकारी मंजूरी और समर्थन

इस ब्रांड परिवर्तन के लिए कंपनी ने लगभग तीन महीने पहले आवेदन किया था और 8 फरवरी को कंपनी रजिस्ट्रार (Company Registrar) से इसके लिए मंजूरी प्राप्त हुई। इस नए नाम के साथ, पेटीएम ई-कॉमर्स अब पाई प्लेटफॉर्म्स के रूप में अपनी व्यावसायिक यात्रा को नई दिशा देगा।

बड़े निवेशकों का समर्थन

एलिवेशन कैपिटल (Elevation Capital) पेटीएम ई-कॉमर्स में सबसे बड़ा शेयरधारक है, जिसे पेटीएम के संस्थापक और सीईओ (CEO) विजय शेखर शर्मा, सॉफ्टबैंक (SoftBank) और ईबे (eBay) का भी समर्थन प्राप्त है। इन प्रमुख निवेशकों का समर्थन पाई प्लेटफॉर्म्स के लिए विकास की नई संभावनाओं को खोलता है।

बिट्सिला का अधिग्रहण

बिट्सिला, जिसे 2020 में पेश किया गया था, फुल-स्टैक ओमनीचैनल (Full-Stack Omnichannel) और हाइपरलोकल कॉमर्स (Hyperlocal Commerce) क्षमताओं के साथ ओएनडीसी विक्रेता मंच के रूप में काम करता है। इस अधिग्रहण से पाई प्लेटफॉर्म्स अपने वाणिज्य गतिविधियों (Commerce Activities) को और बढ़ावा देने में सक्षम होगा।

ओएनडीसी

ओएनडीसी (ONDC) वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की एक पहल है, जिसका उद्देश्य छोटे खुदरा विक्रेताओं (Small Retail Vendors) को डिजिटल कॉमर्स का फायदा उठाने में मदद करना है। पाई प्लेटफॉर्म्स ओएनडीसी नेटवर्क पर एक अग्रणी खरीदार मंच (Leading Buyer Platform) होने का लक्ष्य रखता है और बिट्सिला का अधिग्रहण इस लक्ष्य को प्राप्त करने में एक महत्वपूर्ण कदम है।