home page

पुलिसवाले ने बहन की शादी में छपवाया अनोखा शादी का कार्ड, शादी में जरुर आना की जगह लिखी ऐसी बात की हो गया वाइरल

लोकसभा चुनाव के समय में जब हर तरफ चुनावी चर्चा का माहौल गरम है ऐसे में मध्य प्रदेश के दमोह से एक अनोखा मामला सामने आया है जो न केवल विशेष है बल्कि प्रेरणादायक भी है।
 | 
damoh-policeman-sister-wedding-card
   
WhatsApp Group Join Now

लोकसभा चुनाव के समय में जब हर तरफ चुनावी चर्चा का माहौल गरम है ऐसे में मध्य प्रदेश के दमोह से एक अनोखा मामला सामने आया है जो न केवल विशेष है बल्कि प्रेरणादायक भी है। यहां एक शादी के निमंत्रण कार्ड ने नई बहस को जन्म दिया है। आमतौर पर शादी के कार्ड में जहां विवाह की तिथि और समय की जानकारी होती है, वहीं इस कार्ड में मतदान के प्रति जागरूकता फैलाने का एक संदेश भी शामिल है।

आरक्षक मनीष सेन की अनोखी पहल

हटा थाने के आरक्षक मनीष सेन ने अपनी बहन आरती की शादी के निमंत्रण में एक खास अपील जोड़ी है। उन्होंने सभी मेहमानों से आग्रह किया है कि वे मतदान का उपयोग अवश्य करें। इस पहल के पीछे उनकी बहन आरती की सोच है जो चाहती हैं कि शादी के मौके पर भी लोग अपने नागरिक दायित्वों को न भूलें। आरती की शादी 23 अप्रैल को हुई थी और मतदान 26 अप्रैल को हुआ इसलिए इस संदेश की वैल्यू और भी बढ़ जाती है।

लोगों में प्रशंसा की लहर

जैसे-जैसे यह शादी का कार्ड लोगों के बीच पहुँच रहा है उसे पढ़ने वाले हर व्यक्ति से खुशी की एक लहर सी उठ रही है। यह न केवल एक निमंत्रण है बल्कि एक जागरूकता अभियान का हिस्सा भी है जिसे आरक्षक मनीष सेन और उनके परिवार ने बखूबी अंजाम दिया है। हटा थाने के उपनिरीक्षक शत्रुघ्न दुबे ने भी इस पहल की सराहना की है जिससे इस नई सोच को और बल मिला है।

fdh

यह भी पढ़ें; शादीशुदा होने के बाद भी इन मर्दों को खूब पसंद करती है औरतें, अंदर ही अंदर इस काम को करने को रहती है उत्सुक

मतदान

वोट डालना सिर्फ एक अधिकार नहीं बल्कि एक जिम्मेदारी भी है। इस पहल के माध्यम से मनीष सेन और उनकी बहन आरती ने यह संदेश दिया है कि हर वोट महत्वपूर्ण है और उसका प्रयोग करना चाहिए। यह शादी का कार्ड न सिर्फ उनके लिए बल्कि समाज के लिए भी एक मिसाल बन गया है कि कैसे विशेष अवसरों को भी समाज के प्रति जिम्मेदारी के प्रदर्शन में बदला जा सकता है।