home page

Rajasthan Weather Forecast: राजस्थान के इन जिलों में ठंड के साथ बारिश के लिए हो जाए तैयार, 24 घंटे में इन इलाको में हो सकती है बारिश

Rajasthan में बारिश के बाद ठिठुरन बढ़ा है। रविवार को राज्य में बारिश और बूंदाबांदी हुई है। रविवार को प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के असर से बारिश हुई, मौसम विभाग ने बताया। शनिवार रात से रविवार शाम तक जिलों
 | 
Rain increases chill in Rajasthan

Rajasthan में बारिश के बाद ठिठुरन बढ़ा है। रविवार को राज्य में बारिश और बूंदाबांदी हुई है। रविवार को प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के असर से बारिश हुई, मौसम विभाग ने बताया। शनिवार रात से रविवार शाम तक जिलों में लगातार बारिश हुई।  

सोमवार को मौसम विभाग ने भीलवाड़ा, बारां, बूंदी, कोटा और चित्तोड़गढ़ जिलों में हल्की बारिश की उम्मीद की है। विभाग ने कहा कि मेघगर्जन के समय सुरक्षित स्थान पर रहना चाहिए, लेकिन पेड़ों के नीचे नहीं रहना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्लग हटाएँ।मौसम सामान्य होने तक इंतजार करें।

हनुमानगढ़ में सबसे अधिक बारिश हुई 

हनुमानगढ़ के गोलूवाला में पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक बारिश 21 मिलीमीटर हुई। शनिवार रात को मौसम केन्द्र जयपुर के अनुसार जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर और भरतपुर संभाग के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। केन्द्र ने बताया रविवार को पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, भरतपुर और अजमेर संभाग में हल्की बारिश हुई।

राजधानी जयपुर में दोपहर से बारिश हुई, जो शाम तक चली। पांच फरवरी से राज्य के अधिकांश भागों में मौसम शुष्क रहने की संभावना है, मौसम केंद्र ने कहा। यही कारण है कि सोमवार से न्यूनतम तापमान में 2 से 3 डिग्री की गिरावट होने की संभावना है।

गेहूं-जौ को लाभ, सरसों को नुकसान

राज्य में बारिश होने से किसानों के चेहरे खिले हुए हैं। इससे गेहूं, जौ और चने की खेती को पानी मिलेगा। इससे आगामी दिनों तक नमी बनी रहेगी और पानी की समस्या कम हो जाएगी। बारिश सरसों की फसल के लिए नुकसानदायक होगी। इससे सरसों की फलियों से सरसों नीचे गिर जाएगी।