home page

रात के टाइम भिनभिनाने की आवाज से परेशान था परिवार, फिर घरवालों ने छत तोड़ी तो सबकी फटी की फटी रह गई आंखे

शहद के लिए प्रसिद्ध ऋषिकेश में एक घर की प्लास्टरबोर्ड छत के अंदर मधुमक्खियों ने अपना विशालकाय छत्ता बनाया है जो स्थानीय निवासियों और पर्यटकों के लिए आश्चर्य का विषय बना हुआ है।
 | 
1-lakh-80-thousand-honey-bees
   

शहद के लिए प्रसिद्ध ऋषिकेश में एक घर की प्लास्टरबोर्ड छत के अंदर मधुमक्खियों ने अपना विशालकाय छत्ता बनाया है जो स्थानीय निवासियों और पर्यटकों के लिए आश्चर्य का विषय बना हुआ है। इंस्टाग्राम अकाउंट @lochnesshoney द्वारा पोस्ट किए गए एक वीडियो में इस विशाल छत्ते की फोटो शेयर की गई है जिसे देखकर हर कोई हैरान है।

बीकीपर की चुनौतीपूर्ण कार्यवाही

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस घर में बीस की तीन कॉलोनियां मिलीं जिनमें प्रत्येक में लगभग 60 हजार मधुमक्खियां थीं। इन सभी मधुमक्खियों को सुरक्षित रूप से कहीं और स्थानांतरित करने के लिए लोच नेस हनी कंपनी के मधुमक्खी पालक एंड्रयू कार्ड को बुलाया गया। एंड्रयू ने बताया कि इन मधुमक्खियों का उपयोग अगले वर्ष शहद उत्पादन में किया जाएगा।

अनपेक्षित खोज और मधुमक्खियों की आदतें

घर के मालिक और उनके पोते-पोतियों ने बताया कि उन्होंने रात के समय कमरे में भिनभिनाने की आवाजें सुनी थीं लेकिन उन्हें यह नहीं पता था कि छत में मधुमक्खियों का इतना बड़ा झुंड छिपा हुआ है। थर्मल इमेजिंग कैमरे की मदद से जब इस छत्ते का पता चला तो उसमें मधुमक्खियों की संख्या उम्मीद से कहीं ज्यादा थी। एंड्रयू के अनुसार यह उनके जीवन का सबसे बड़ा मधुमक्खी पालन का काम था।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

मधुमक्खियों की सुरक्षित स्थानांतरण योजना

इन मधुमक्खियों को स्थानांतरित करने की योजना बनाई गई है। इसमें मधुमक्खियों को उनके नए घर में ले जाने की प्रक्रिया शामिल है जहां वे सुरक्षित रूप से रह सकेंगी और उनकी प्रजनन क्षमता का भी ख्याल रखा जाएगा। इस पूरे प्रयास का उद्देश्य मधुमक्खियों को सुरक्षित आवास प्रदान करना और उनकी जीवन शैली को बनाए रखना है।