home page

बजाज स्कूटर के साथ बंदे ने लगाया गजब का जुगाड़, बंदे ने एक्सिलेटर दबाते ही तीसरी मंजिल पर पहुंचा दी सीमेंट

भारतीय समाज की एक खास विशेषता है उसकी जुगाड़ तकनीक जिसमें कम संसाधनों के साथ भी समस्याओं का समाधान खोज लिया जाता है। यह जुगाड़ कला न केवल समस्याओं को हल करने में सहायक होती है।
 | 
Unique use of Scooter
   

भारतीय समाज की एक खास विशेषता है उसकी जुगाड़ तकनीक जिसमें कम संसाधनों के साथ भी समस्याओं का समाधान खोज लिया जाता है। यह जुगाड़ कला न केवल समस्याओं को हल करने में सहायक होती है।

बल्कि कई बार यह हमारी सोच से भी परे होती है। हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो ने एक बार फिर से इस जुगाड़ तकनीक की विलक्षणता को साबित कर दिया है।

स्कूटर का अनोखा इस्तेमाल

वायरल वीडियो में दिखाया गया है कि किस प्रकार एक शख्स ने स्कूटर के पीछे वाले पहिये को निकालकर वहां एक लोहे का रॉड लगाया और इसमें रस्सी बांधकर बिल्डिंग में सामान को ऊपर चढ़ाने का जुगाड़ बनाया। जब वह स्कूटर को स्टार्ट करके रेस देता है तो रस्सी के माध्यम से सामान आसानी से ऊपर पहुँच जाता है।

यह टैलेंट इंडिया से बाहर नहीं जाना चाहिए

इस वीडियो को माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म एक्स (पहले ट्विटर) पर @HasnaZaruriHai नाम के अकाउंट से शेयर किया गया है। वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है कि 'बजाज वालों ने भी कभी नहीं सोचा होगा कि स्कूटर का ऐसा इस्तेमाल हो सकता है।'

खबर लिखे जाने तक वीडियो को 5 हजार से अधिक लोगों ने देख लिया है। वीडियो देखने के बाद एक यूजर ने लिखा- शाबास बेटे। दूसरे यूजर ने लिखा- यह टैलेंट इंडिया से बाहर नहीं जाना चाहिए इसका पेटेंट करवा लो।


देशी जुगाड़ की कोई सीमा नहीं होती 

यह वीडियो सिर्फ एक उदाहरण है कि कैसे भारतीय अपनी समस्याओं का समाधान बड़ी सहजता और जुगाड़ के साथ निकाल लेते हैं। यह जुगाड़ तकनीक न केवल हमें समस्याओं का समाधान करने की एक नई दिशा प्रदान करती है, बल्कि यह भी दिखाती है कि कैसे देशी जुगाड़ और आविष्कार की कोई सीमा नहीं होती।