home page

कबाड़ के रेट में ख़रीदा था पुराना घर दीवार को तोड़ते ही बरसी माता लक्ष्मी की कृपा, बड़े ख़ज़ाने को देख शख़्स को नही हुआ आँखो पर विश्वास

लोग अपने लिए जब घर खरीदते हैं, तो हमेशा ऐसी डील करना चाहते हैं, जिसमें उनका फायदा ज्यादा से ज्यादा हो सके. इसमें पुरानी प्रॉपर्टीज़ अच्छा मुनाफा दिलाती हैं.
 | 
Man Finds Treasure

लोग अपने लिए जब घर खरीदते हैं, तो हमेशा ऐसी डील करना चाहते हैं, जिसमें उनका फायदा ज्यादा से ज्यादा हो सके. इसमें पुरानी प्रॉपर्टीज़ अच्छा मुनाफा दिलाती हैं. अगर कोई पुराना खरीदकर उसकी मरम्मत कराई जाए तो इंसान को कम पैसे में खूबूसरत आशियाना मिल सकता है.

खासतौर पर विदेशों में ये चलन खूब है. Toño Piñeiro नाम के एक बिल्डर ने अपने लिए स्पेन के लुगो में एक घर खरीदा, जिसे वो रिटायरमेंट होम बनाना चाहता था. जब वो घर में कुछ निर्माण कार्य कर रहा था, तभी उसे दीवार के पीछे से कुछ ऐसा मिला, जिसकी कल्पना शायद ही टोनो को रही होगी. उसकी आंखें दीवार में छिपे खज़ाने को देखकर फटी की फटी रह गईं.

ये भी पढिए :- पुलिस अगर आपको गिरफ़्तार कर ले तो इन 5 अधिकारों की ले सकते है मदद, आधी समस्याएँ हो जाएगी ख़त्म

दीवार में मिले बोतलों के अंदर ठूंसे नोट

टोनो को दीवार तोड़ते ही अंदर से कई सारी टिन की बोतलें रखी हुई थीं. उसने एक-एक करके इन्हें खोलना शुरू किया तो अंदर से नोट निकलने लगे. दीवार से निकलने वाले सारे नोटों की कीमत करीब £47,500 यानि भारतीय मुद्रा में 47 लाख रुपये से ज्यादा रही होगी. दीवार के अंदर से मिले इस खज़ाने को देखकर टोनो दंग रह गया, लेकिन उसे नहीं पता था कि वो जितनी रईसी के सपने देख रहा है, वो अगले ही पल टूटने वाला है.

फिर धोखा दे गई किस्मत ….

शख्स की खुशी थोड़ी ही देर की थी क्योंकि अगले ही पल उसे पता चला कि उसको मिला कैश Spanish Pesetas है, जो साल 2022 में ही लीगल टेंडर नहीं रह गया था और यूरो यहां की करेंसी हो गई थी. ऐसे में उसे न तो इस कैश के बदले यूरो मिल सकते थे और न ही ये कहीं लेन-देन में आ सकता था.

ये भी पढिए :- इन महिलाओं को 30 मर्दों के बीच रहकर पूरे दिन करना पड़ता है काम, हर महीने काम से कमाती है लाखों रुपए

हालांकि किसी तरह से शख्स ने इन पैसों से 30 लाख रुपये पाने में कामयाब हो गया, जिससे उसकी छत डालने का बंदोबस्त हो गया. उसने ये प्रॉपर्टी फेसबुक पर लिस्टिंग के ज़रिये खरीदी थी और 40 साल से यहां कोई नहीं आया था.