home page

इस नस्ल की गाय पालने वाले मालिकों पर होती है पैसों की बरसात, एक दिन में 50 से 80 लीटर दूध देकर अपने मालिक को मालामाल कर देती ये गाय

वर्तमान में, हमारे देश का डेरी फार्मिंग और पशुपालन क्षेत्र बहुत तेजी से विकसित हो रहा है। आपको बता दें कि ग्रामीण क्षेत्रों में लाखों लोगों की आय का एक अच्छा स्रोत है।
 | 
Highest Milk Cow
   

वर्तमान में, हमारे देश का डेरी फार्मिंग और पशुपालन क्षेत्र बहुत तेजी से विकसित हो रहा है। आपको बता दें कि ग्रामीण क्षेत्रों में लाखों लोगों की आय का एक अच्छा स्रोत है। हमारे देश में 50 से 60 लीटर प्रति दिन दूध देने वाली गायें की नस्ल भी पाई जाती हैं। आज हम आपको सबसे अधिक दूध देने वाली गायों के बारे में पूरी जानकारी दे रहे है। जिससे आप भी लाखो रुपये कमा सकते है।

लखपति बना देगी इस नस्ल की गाय

आप इस गाय का पालन करके हर महीने लाखो रुपये की कमाई कर सकते हैं अगर आप भी कम समय में लखपति बनना चाहते हैं। गिर नामक इस नस्ल की गाय सबसे अधिक दूध देती है। इस नस्ल की गाय प्रति दिन लगभग 50 से लेकर 60 लीटर दूध दे सकती है।

इस नस्ल की गाय का मूल्य बहुत अधिक होता है। इस नस्ल की गाय का दूध किसी बीमार व्यक्ति को बहुत जल्दी ठीक कर सकता है। छोटे बच्चों की सेहत के लिए दूध बहुत अच्छा है। आइये जानते है गिर गाय की नस्ल कैसी होती है। गिर गाय की नस्ल का पालन कैसे कर सकते हैं? गिर गाय भी आपको कम समय में लखपति बना सकती है।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

जाने गिर गाय की खासियत और पहचान

गिर नस्ल की गायों को तेज धूप में रहना अच्छा नहीं लगता। गिर गायों के कान बड़े और लंबे होते हैं। गिर नस्ल की गायों में सफेद रंग, गहरा लाल रंग या भूरे रंग के धब्बे होते हैं। गिर नस्ल की गाय की खाल लटकी हुई होती है और उसका शटर ढीला होता है।

गिर नस्ल की मादा गाय मे 385 किलोग्राम वजन और 130 सेमी ऊंची होती है। नर गिर नस्ल की गायों का वजन लगभग 545 किलोग्राम और ऊंचाई 135 सेमी होती है। गिर गाय एक दिन में कई लीटर दूध देने की क्षमता रख सकती है।

आइए जानते हैं गिर गाय की नस्ल चारे में क्या कहती है और इसका पालन पोषण करके अधिक दूध उत्पादन करने के लिए कैसे व्यवसाय करना लाभदायक है।

जाने गिर गाय का चारा

आपकी जानकारी के लिए  बतादे कि गिर गाय का आहार ही दूध की गुणवत्ता और मात्रा निर्धारित करता है। गिर नस्ल की गाय चारे में मक्का, बाजरा, गेहूं, जौं, जौं चावल, मूंगफली, सरसों, सों तिल, अलसी, मक्की से बना खुटाक, गुआरे का चूरा आदि खाती है। गिर गाय की नस्ल से अच्छी कमाई भी हो सकती है। आप डेरी खेती करके भी लाभ कर सकते हैं।