home page

दुनिया का सबसे महंगा गुलाब जिसकी क़ीमत सुनकर अंबानी के भी उड़ जाए होश, इसकी कीमत में आसानी से खरीद लेंगे 100 से ज्यादा BMW कार

दुनिया भर में 7 फरवरी को रोज डे (Rose Day) के रूप में मनाया जाता है। यह वैलेंटाइन वीक (Valentine Week) का पहला दिन होता है, जहां प्रेमी जोड़े एक-दूसरे को गुलाब देकर अपने प्यार का इजहार करते हैं।
 | 
World's Most Expensive Rose

दुनिया भर में 7 फरवरी को रोज डे (Rose Day) के रूप में मनाया जाता है। यह वैलेंटाइन वीक (Valentine Week) का पहला दिन होता है, जहां प्रेमी जोड़े एक-दूसरे को गुलाब देकर अपने प्यार का इजहार करते हैं। इस खूबसूरत दिन का जश्न मनाने का अपना एक अलग ही चार्म है।

रोज डे पर अपने प्रियजनों को गुलाब देना एक खूबसूरत तरीका है प्यार का इजहार करने का। जूलियट रोज की खासियत और इसकी भारी कीमत इसे न केवल एक गुलाब बनाती है बल्कि एक अनूठी कृति (Unique Creation) में तब्दील कर देती है।

यह गुलाब न सिर्फ प्रेम का प्रतीक है बल्कि दुर्लभता और सौंदर्य का भी प्रतीक है, जो इसे विशेष अवसरों पर देने के लिए एक अद्वितीय चयन बनाता है।

दुनिया का सबसे महंगा गुलाब

क्या आप जानते हैं कि दुनिया में सबसे महंगा गुलाब (Most Expensive Rose) कौन सा है? जूलियट रोज (Juliet Rose) को इस श्रेणी में सबसे ऊपर रखा जाता है। इसकी कीमत और खासियत दोनों ही इसे बेहद खास बनाते हैं।

जूलियट रोज: कीमत और खासियत

जूलियट रोज के एक गुलदस्ते की कीमत 130 करोड़ रुपये (Price) है, जो इसे खरीदने के लिए एक विशेष वर्ग के लोगों तक सीमित कर देती है। इस गुलाब को खिलने में 15 साल का समय (Time) लगता है, जो इसकी विशेषता को और भी बढ़ा देता है।

जूलियट रोज की विशेषताएं

इस गुलाब का रंग पीले, सफेद और गुलाबी रंग के मिश्रण (Color Mix) से मिलकर बना है, जो इसे एक अनूठा आकर्षण प्रदान करता है। Finance Online की रिपोर्ट के अनुसार, जूलियट रोज की कीमत 15.8 मिलियन डॉलर (Dollar) है।

जूलियट रोज का इतिहास

जूलियट रोज को पहली बार 2006 में खिलाया गया था। उस समय, इसकी कीमत 90 करोड़ रुपये थी। इस गुलाब को एप्रिकोट-ह्यूड हाइब्रिड (Apricot-Hued Hybrid) कहा जाता है।

जूलियट रोज के निर्माता

इस अनोखे गुलाब को डेविड ऑस्टिन (David Austin) ने उगाया था। उनका कहना था कि इसे कई गुलाबों को मिलाकर बनाया गया था। इस गुलाब की महक में हल्की चाय की महक (Scent) होती है, जो इसे और भी विशेष बनाती है।