home page

1600 करोड़ की लागत से ग्रेटर फरीदाबाद को कनेक्ट करेंगे ये 2 एलिवेटेड रोड, DPR हुई तैयार और यह होगा रूट

पश्चिमी फरीदाबाद को ग्रेटर फरीदाबाद से जोड़ने के लिए प्रस्तावित दो एलिवेटेड सड़क परियोजनाएं शहर की सूरत बदलने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम हैं।
 | 
story-faridabad-west-to-greater
   

पश्चिमी फरीदाबाद को ग्रेटर फरीदाबाद से जोड़ने के लिए प्रस्तावित दो एलिवेटेड सड़क परियोजनाएं शहर की सूरत बदलने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम हैं। इस परियोजना की लागत लगभग 1600 करोड़ रुपये अनुमानित की गई है, और इसकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार हो चुकी है। 10 जुलाई को चंडीगढ़ में होने वाली फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) की बैठक में इस परियोजना के बजट की मंजूरी की संभावना है।

यातायात में सुधार और समय की बचत

वर्तमान में एनआईटी से ग्रेटर फरीदाबाद तक की यात्रा में बड़खल नीलम चौक और बाटा चौक पर बने रेलवे ओवरब्रिज के माध्यम से 20 से 25 मिनट का समय लगता है। तीनों फ्लाई ओवर पर वाहनों के बढ़ते दबाव के कारण अक्सर जाम की स्थिति बन जाती है जिससे लोगों का काफी समय बर्बाद होता है। नई एलिवेटेड सड़क परियोजना से इस समस्या का समाधान हो सकेगा और यातायात आसान होगा।

परियोजना की पूरी योजना

पहला एलिवेटेड मार्ग सैनिक कॉलोनी के निकट अरुण जेटली वित्तीय प्रबंधन संस्थान के सामने से शुरू होकर बड़खल-अनखीर गांव के सामने से होते हुए एशियन अस्पताल के सामने रेलवे पुल से जुड़ेगी। इसके बाद यह ग्रेटर फरीदाबाद स्थित अमृता अस्पताल तक जाएगी। इस मार्ग में बड़खल झील और रेलवे पुल के पास इंटरचेंज की सुविधा भी बनाई जाएगी।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

दूसरा एलिवेटेड मार्ग एनएच-3 गुरुग्राम रोड से बाटा रेलवे ओवरब्रिज पर राष्ट्रीय राजमार्ग की तरफ उतरते समय शुरू होगा। यह स्लिप रोड नीलम पुल की तरफ ऊपर उठती हुई जाएगी और फिर राष्ट्रीय राजमार्ग को पार करते हुए कोर्ट रोड से जुड़ेगी।