home page

हरियाणा इन 23 गांवो से होकर गुजरेगा ये नया रिंग रोड, इन गांवो की जमीनों में आएगा तगड़ा उछाल

हरियाणा राज्य जो भारत के सबसे समृद्ध और विकसित राज्यों में से एक है अब सड़क निर्माण के क्षेत्र में भी नई मिसाल कायम कर रहा है।
 | 
ambala-ring-road
   

हरियाणा राज्य जो भारत के सबसे समृद्ध और विकसित राज्यों में से एक है अब सड़क निर्माण के क्षेत्र में भी नई मिसाल कायम कर रहा है। यहाँ हर दिन लाखों लोग ट्रेनों के साथ-साथ सड़क मार्ग से भी यात्रा करते हैं। हरियाणा सरकार द्वारा राज्य में कई हाइवे और सड़कों का निर्माण कर आवागमन को आसान बनाया जा रहा है।

अंबाला रिंग रोड़

विशेष रूप से अंबाला में, एक 40 किलोमीटर लंबे रिंग रोड़ का निर्माण जोरों पर है। यह रिंग रोड़ न केवल अंबाला छावनी को आपस में जोड़ेगा बल्कि कई अन्य राज्यों के शहरों के आवागमन को भी आसान बनाएगा। इस परियोजना से अंबाला शहर के निवासियों को भी जाम से छुटकारा मिलेगा।

अधिग्रहीत जमीन और निर्माण कार्य

इस रिंग रोड़ के निर्माण के लिए 600 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया गया है। इस परियोजना में दो रेलवे ओवरब्रिज और तीन फ्लाईओवर का निर्माण भी शामिल है, जिससे यात्रा की सुविधा में और भी इजाफा होगा।

रिंग रोड़ के खास फायदे

इस रिंग रोड़ का निर्माण 5 नेशनल हाइवेज़ को आपस में जोड़ने का काम करेगा। इसके अलावा, इस पर 2 छोटे पुल और टांगरी नदी पर 2 बड़े पुलों का निर्माण भी किया जाएगा। यह रिंग रोड़ न केवल यातायात को सुगम बनाएगा बल्कि आसपास के गांवों के विकास में भी महत्वपूर्ण योगदान देगा।

किसानों को अधिग्रहण की प्रक्रिया और मुआवजा

इस रिंग रोड़ परियोजना के लिए किए गए जमीन अधिग्रहण में किसानों को उचित मुआवजा दिया गया है। इस निर्माण से प्रभावित गांवों के किसानों को उनकी जमीन के बदले में समुचित राशि प्रदान की गई है, जिससे उनके आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

यह भी पढ़ें; गर्मियों का सीजन आने से पहले ही इन AC पर मिल रहा भारी डिस्काउंट, अभी मौका निकाल दिया तो होगा पछतावा

रिंग रोड़ की खासियत 

रिंग रोड़ का निर्माण न केवल यात्रा के समय को कम करेगा बल्कि शहर के अंदर की भीड़-भाड़ और प्रदूषण को भी कम करेगा। इससे अंबाला और आसपास के क्षेत्रों का विकास होगा और नई आर्थिक संभावनाएँ खुलेंगी।