home page

इस जगह लगता है तलाकशुदा महिलाओं का मेला, सब मिलकर मनाती है जश्न

तलाक आमतौर पर एक दुखद प्रक्रिया मानी जाती है, लेकिन मॉरिटेनिया में इसे एक अलग ही तरह से देखा जाता है। यहां पर महिलाएं तलाक के बाद एक उत्सव मनाती हैं, जिसे 'डिवोर्स पार्टी' कहा जाता है।
 | 
divorced-women-market-in-mauritania
   

तलाक आमतौर पर एक दुखद प्रक्रिया मानी जाती है। लेकिन मॉरिटेनिया में इसे एक अलग ही तरह से देखा जाता है। यहां पर महिलाएं तलाक के बाद एक उत्सव मनाती हैं, जिसे 'डिवोर्स पार्टी' कहा जाता है। इस दौरान ढोल बजाया जाता है और समाज को यह संकेत दिया जाता है कि महिला अब स्वतंत्र है।

यह प्रथा इस बात का प्रतीक है कि महिला अब अपनी जिंदगी को नए सिरे से शुरू कर सकती है। मॉरिटेनिया की यह अनोखी परंपरा दुनिया भर में महिलाओं के लिए एक उदाहरण सेट करती है। जिससे यह संदेश मिलता है कि तलाक न केवल अंत है। बल्कि एक नई शुरुआत की संभावना भी हो सकती है।

महिलाओं का आत्मनिर्भरता की ओर कदम

तलाक के बाद महिलाएं मॉरिटेनिया के बाजारों में अपनी दुकानें लगाती हैं जहां वे कपड़े, गृहस्थी की वस्तुएं और अन्य जरूरी सामान बेचती हैं। यह न केवल उनकी आर्थिक स्वतंत्रता को बढ़ावा देता है बल्कि उन्हें समाज में एक नई पहचान भी प्रदान करता है। इस तरह की प्रथाएँ महिलाओं को उनकी जिंदगी के नए अध्याय की शुरुआत करने में मदद करती हैं।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

सामाजिक स्वीकृति और उत्सव की भावना

मॉरिटेनिया में तलाक को सामाजिक स्वीकृति प्राप्त है और इसे खुशी के साथ स्वीकार किया जाता है। तलाक के बाद की गई पार्टीज इस बात का प्रमाण हैं कि समाज महिलाओं को एक नयी शुरुआत करने का पूरा अवसर देता है। यह परंपरा न केवल महिलाओं को बल देती है बल्कि उन्हें अपने फैसले पर पुनर्विचार किए बिना आगे बढ़ने का साहस भी प्रदान करती है।

बच्चों की कस्टडी और महिलाओं की भूमिका

मॉरिटेनिया में तलाक के बाद बच्चों की कस्टडी आमतौर पर मां को मिल जाती है। इससे महिलाएं न केवल अपने बच्चों की परवरिश करती हैं बल्कि उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनने का भी मौका मिलता है। यह स्थिति उन्हें समाज में एक मजबूत स्थान प्रदान करती है और उनके सामाजिक उत्थान में मदद करती है।

नई शुरुआत की ओर

तलाक के बाद महिलाएं मॉरिटेनिया में नई शादी करने के लिए स्वतंत्र होती हैं। इससे उन्हें अपनी जिंदगी में नई दिशा और नए साथी का चयन करने का अवसर मिलता है। यह परंपरा महिलाओं को अपने जीवन के निर्णय स्वयं लेने की शक्ति देती है और उन्हें समाज में एक सम्मानित स्थान प्रदान करती है।