home page

UP Budget 2024: यूपी के 124 ग्रामीण स्टेडियम बनाएगी योगी सरकार, 22 लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार देने की है तैयारी

उत्तर प्रदेश विधानसभा (Uttar Pradesh Legislative Assembly) में सोमवार को पेश किए गए 2024 के बजट में योगी सरकार (Yogi Government) ने एक नई दिशा निर्धारित की है। इस बजट के माध्यम से सरकार...
 | 
Benefit to youth in the budget (1)

उत्तर प्रदेश विधानसभा (Uttar Pradesh Legislative Assembly) में सोमवार को पेश किए गए 2024 के बजट में योगी सरकार (Yogi Government) ने एक नई दिशा निर्धारित की है। इस बजट के माध्यम से सरकार ने किसानों (Farmers), महिलाओं (Women), और युवाओं (Youth) के विकास के लिए विशेष ध्यान केंद्रित किया है।

उत्तर प्रदेश सरकार का 2024 का बजट युवाओं, महिलाओं और किसानों के विकास के लिए एक मजबूत नींव रखता है। इसके माध्यम से सरकार ने न केवल रोजगार सृजन की दिशा में अग्रसर कदम उठाए हैं बल्कि समाज के विभिन्न वर्गों की समृद्धि और विकास को भी सुनिश्चित किया है।

ग्रामीण स्टेडियम और रोजगार के अवसर

विशेष रूप से, सरकार ने उत्तर प्रदेश के 117 विकास खंडों (Development Blocks) में 124 ग्रामीण स्टेडियम (Rural Stadiums) और मल्टीपरपज हॉल (Multipurpose Halls) के निर्माण की घोषणा की है। इसके अलावा, 22 लाख से ज्यादा युवाओं के लिए रोजगार (Employment) की सौगात भी प्रदान की गई है।

एक जनपद एक उत्पाद योजना का प्रभाव

एक जनपद एक उत्पाद (One District One Product) वित्त पोषण योजना के तहत, सरकार ने लगभग 13,597 लाभार्थियों के माध्यम से 1,92,193 रोजगार सृजित किए हैं, जो युवाओं के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

युवाओं के लिए विशेष योजनाएं

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना (Suresh Khanna) ने बजट प्रस्तुति के दौरान युवाओं के लिए लाभकारी विभिन्न योजनाओं का उल्लेख किया। यूपी की ग्राम पंचायतों (Gram Panchayats) में 53,800 युवक मंगल दल (Youth Mangal Dal) और 51,300 महिला मंगल दलों (Women Mangal Dal) का गठन सामाजिक और राष्ट्रीय महत्व के कार्यों में युवाओं की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए किया गया है।

राष्ट्रीय युवा उत्सव में उत्तर प्रदेश की उपलब्धि

26वें राष्ट्रीय युवा उत्सव (National Youth Festival) में उत्तर प्रदेश के लोकगीत की टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक (Gold Medal) जीता, जो राज्य के युवाओं की प्रतिभा का प्रमाण है।

रोजगार सृजन की दिशा में अग्रसर

एपएसएमई सेक्टर (MSME Sector) में मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना (Chief Minister Youth Self-Employment Scheme), विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना (Vishwakarma Shram Samman Yojana), और एक जनपद एक उत्पाद कौशल उन्नयन एवं टूलकिट योजना (Skill Upgradation and Toolkit Scheme) के तहत लाखों रोजगार सृजित किए गए हैं।

उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के तहत प्रगति

उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन (Uttar Pradesh Skill Development Mission) के अंतर्गत, 12.15 लाख युवाओं को प्रशिक्षित कर 4.13 लाख युवाओं को प्रतिष्ठित कंपनियों में रोजगार प्रदान किया गया।

महात्मा गाँधी नरेगा और ग्रामोद्योग रोजगार योजना

महात्मा गाँधी नरेगा योजना (Mahatma Gandhi NREGA Scheme) और मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना (Chief Minister Gramodyog Rojgar Yojana) के अंतर्गत भी लाखों श्रमिकों को रोजगार प्रदान किया गया, जिससे वित्तीय वर्ष 2024-2025 में 33 करोड़ मानव दिवस के सृजन का लक्ष्य है।