home page

UP Weather Forecast: फरवरी में रिकॉर्ड बारिश के आसार, मौसम विभाग ने की भविष्यवाणी

एक महीने तक चले भीषण ठंड के दौर (Cold Wave) के बाद मुरादाबाद (Moradabad) समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) के निवासियों को जब राहत मिली, तो लगा कि मौसम अब उनके पक्ष में है।
 | 
Weather Forecast

एक महीने तक चले भीषण ठंड के दौर (Cold Wave) के बाद मुरादाबाद (Moradabad) समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) के निवासियों को जब राहत मिली, तो लगा कि मौसम अब उनके पक्ष में है। लेकिन दो दिनों की धूप (Sunshine) के बाद मौसम का मिजाज (Weather Mood) फिर से बदल गया।

मुरादाबाद समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के निवासियों के लिए मौसम का यह बदलाव नई चुनौतियां (Challenges) लेकर आया है। बारिश और ओले के इस दौर में सजगता (Alertness) और तैयारी महत्वपूर्ण है, ताकि किसी भी आपात स्थिति का सामना किया जा सके। मौसम विभाग के अलर्ट को ध्यान में रखते हुए नागरिकों को अपनी सुरक्षा के लिए पूर्व तैयारी और सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

बारिश और ओले ने दी दस्तक

रविवार रात को मुरादाबाद में अचानक बारिश (Rain) शुरू हो गई, जिससे शहर के लोग एक बार फिर से मौसम की अनिश्चितता का सामना कर रहे हैं। मौसम विभाग (Meteorological Department) ने ऑरेंज अलर्ट (Orange Alert) जारी करते हुए आसमान पर घने बादल (Cloudy Sky), कई जगहों पर मेघगर्जना (Thunder) के साथ तेज बारिश और कहीं-कहीं ओले (Hailstones) पड़ने की चेतावनी दी है।

फरवरी में बारिश का नया रिकॉर्ड

मुरादाबाद में फरवरी के महीने में होने वाली बारिश ने नया रिकॉर्ड (New Record) बनाने की संभावना जताई जा रही है। पहले से तय अनुमान के मुताबिक, शनिवार देर रात से सोमवार तक बारिश के कई चक्र देखे जा सकते हैं, जिससे तीस मिलीमीटर (30mm) या इससे अधिक बारिश होने की संभावना है।

पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव

मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) के दोबारा सक्रिय होने की वजह से इस बारिश के आसार बन रहे हैं। पहली फरवरी को भी जब पश्चिमी विक्षोभ ने दस्तक दी थी, तब बारिश हुई थी।

औसत से दोगुनी बारिश

मुरादाबाद में फरवरी के पहले दिन इस महीने की औसत बारिश (Average Rainfall) 12 मिलीमीटर होने के बावजूद, 26 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी, जो औसत से दोगुनी है।