home page

UP Weather Today: अप्रैल महीने के शुरू होते ही भयंकर गर्मी ने लोगों की बढ़ाई परेशानी, जाने यूपी में कब होगी बारिश

अप्रैल महीने की शुरुआत में उत्तर प्रदेश का मौसम भीषण गर्मी के साथ अपने नए अध्याय में प्रवेश कर चुका है। इस वर्ष मार्च के अंत से ही मई-जून जैसी गर्मी का अहसास होने लगा था, जिससे आम जनजीवन पर गहरा प्रभाव पड़ा है।
 | 
Uttar Pradesh Weather Updates
   

अप्रैल महीने की शुरुआत में उत्तर प्रदेश का मौसम भीषण गर्मी के साथ अपने नए अध्याय में प्रवेश कर चुका है। इस वर्ष मार्च के अंत से ही मई-जून जैसी गर्मी का अहसास होने लगा था, जिससे आम जनजीवन पर गहरा प्रभाव पड़ा है। उत्तर प्रदेश में बढ़ते तापमान और मौसमी परिवर्तनों ने नागरिकों के सामने नई चुनौतियाँ पेश की हैं।

इस स्थिति में लोगों को जरूरी है कि वे अपना ख्याल रखें और गर्मी से बचने के उपाय करें। साथ ही जल संरक्षण जैसे पर्यावरणीय उपायों को भी अपनाने की आवश्यकता है ताकि इस तरह के मौसमी परिवर्तनों का सामना किया जा सके।

अधिकतम तापमान का उछाल

देखने वाली बात है कि मई-जून जैसी भीषण गर्मी का एहसास मार्च के आखिर से ही होने लगा था। आखिरी दिन रविवार की बात करें तो यूपी के छह शहरों में 39 से 40 डिग्री के बीच अधिकतम तापमान दर्ज हुआ। 

  • कानपुर नगर में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 
  • लखनऊ में अधिकतम तापमान 39.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 
  • प्रयागराज में अधिकतम तापमान 39.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 
  • आगरा में अधिकतम तापमान 39.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 
  • वाराणसी में अधिकतम तापमान 39.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।
  • मुजफ्फरनगर में अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।
  • आगरा में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 

तेज हवाओं और सूखे मौसम की भविष्यवाणी

मौसम विभाग द्वारा की गई भविष्यवाणियों के अनुसार प्रदेश में मौसम शुष्क रहने वाला है और अगले कुछ दिनों में तेज हवाओं के चलने की संभावना है। हालांकि अगले हफ्ते तक तेज हवा या बारिश के कोई आसार नहीं हैं, जिससे गर्मी और अधिक बढ़ने की उम्मीद है।

तापमान में वृद्धि के कारण

तापमान में इस अचानक वृद्धि का कारण मौसम विज्ञानियों द्वारा पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने और तेज सतही पछुआ हवाओं के चलने को माना जा रहा है। इससे हवा की रफ्तार में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन सतह को ज्यादा गर्म होने से रोकने में मदद मिली है।

लोगों की परेशानी

तीखी धूप और बढ़ते तापमान से लोगों को विशेष रूप से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिन जगहों पर तापमान 39 डिग्री या उससे ज्यादा है, वहां दोपहर तक आंशिक बादलों की स्थिति देखी गई। लेकिन शाम तक गर्मी और बढ़ गई। इससे लोगों को असहजता और थकान महसूस हो रही है।