home page

1 अप्रैल से राजस्थान की सड़कों पर निकलना हो जाएगा पहले से ज्यादा महंगा, टोल टैक्स में हुई इतने रुपए की बढ़ोतरी

राजस्थान में नए वित्तीय वर्ष के आगाज़ के साथ ही सड़कों पर सफर करना महंगा होने जा रहा है। 1 अप्रैल से राज्य में नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे पर टोल टैक्स में बढ़ोतरी हो रही है। यह निर्णय लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आया....
 | 
rajasthan-new-rates-of-increase-in-toll-tax
   

राजस्थान में नए वित्तीय वर्ष के आगाज़ के साथ ही सड़कों पर सफर करना महंगा होने जा रहा है। 1 अप्रैल से राज्य में नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे पर टोल टैक्स में बढ़ोतरी हो रही है। यह निर्णय लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आया है, जो जनता के लिए एक बड़ा झटका है।

राजस्थान में टोल टैक्स में वृद्धि एक ऐसा कदम है जिसका प्रभाव सीधे तौर पर आम जनता पर पड़ेगा। इस बढ़ोतरी के पीछे की वजहों को समझना और इसके परिणामों का आकलन करना महत्वपूर्ण है। सरकार को चाहिए कि वह इस बढ़ोतरी को लागू करने से पहले जनता की सहूलियत का भी ध्यान रखे।

टोल टैक्स में वृद्धि की वजह

अनुबंध शर्तों के मुताबिक टोल दरों में 10 से 30 रुपए तक की वृद्धि की गई है। इस बढ़ोतरी के साथ जयपुर से दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे सहित विभिन्न टोल प्लाजा पर यात्रा करना अब महंगा पड़ेगा।

नई टोल दरें

राजस्थान में नेशनल हाईवे पर स्थित 95 टोल प्लाजा में से 30 से अधिक टोल प्लाजा पर मध्यरात्रि से टोल दरें बढ़ाई जाएंगी। इसमें कार और जीप के लिए 10 रुपए, ट्रक और बस के लिए 20 रुपए और भारी वाहनों के लिए 30 रुपए तक की वृद्धि शामिल है।

टोल प्लाजा पर वृद्धि का असर

इस वृद्धि का प्रभाव सीधे तौर पर यात्रियों पर पड़ेगा। मासिक पास की दरों में भी 25 रुपए से लेकर 100 रुपए तक की बढ़ोतरी की गई है। यह बढ़ोतरी विभिन्न वाहनों के आधार पर लागू होगी।

जनता पर प्रभाव

टोल दरों में इस वृद्धि से जनता की जेब पर भारी असर पड़ेगा। खासतौर पर जो लोग रोजाना इन हाईवे का उपयोग करते हैं, उनके लिए यह वृद्धि और भी कठिनाई का कारण बनेगी।