home page

Weather Update Today: बारिश, कोहरे और ठंड ने एकसाथ मिलकर लोगों का किया जीना बेहाल, तीन पश्चिमी विक्षोभों के कारण मौसम में हुआ भारी बदलाव

इस समय हिमालयी क्षेत्र (Himalayan Region) से लेकर मैदानी इलाकों (Plains) तक तीन पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbances) सक्रिय होने के कारण मौसम में एक नया मोड़ आया है।
 | 
Weather Update Today

इस समय हिमालयी क्षेत्र (Himalayan Region) से लेकर मैदानी इलाकों (Plains) तक तीन पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbances) सक्रिय होने के कारण मौसम में एक नया मोड़ आया है। हरियाणा (Haryana), पंजाब (Punjab), और दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR) समेत अनेक राज्यों में हवा के साथ हल्की बूंदाबांदी (Light Drizzle) की स्थिति बनी रहेगी।

जिससे रात के तापमान (Night Temperature) में वृद्धि और दिन के तापमान (Day Temperature) में गिरावट देखने को मिलेगी। तीन पश्चिमी विक्षोभों के सक्रिय होने से उत्तर भारत में मौसम का रूख कई मायनों में बदल रहा है।

चाहे वह बारिश हो या बर्फबारी, यह मौसमी परिवर्तन न केवल पर्यावरण बल्कि कृषि और दैनिक जीवन पर भी महत्वपूर्ण प्रभाव डाल रहे हैं। इस समय की आवश्यकता है कि लोग मौसम विभाग के पूर्वानुमानों पर नजर रखें और तैयार रहें।

फसलों के लिए वरदान, लेकिन ठिठुरन में इजाफा

हल्की बारिश (Light Rain) जहां फसलों के लिए लाभकारी सिद्ध होगी, वहीं दिन के समय ठिठुरन (Chilliness) में वृद्धि होगी। उत्तर भारत (North India) के राज्यों में बादलवाई के बावजूद कड़ाके की ठंड (Severe Cold) और कोहरा (Fog) बरकरार है, पहाड़ी राज्यों (Hill States) में बर्फबारी (Snowfall) की गतिविधियां भी जारी हैं।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान

भारत मौसम विभाग (India Meteorological Department - IMD) के अनुसार, आगामी दिनों में अभी और अधिक बर्फबारी, सर्दी और कोहरे का दौर (More Snowfall, Cold, and Fog) देखने को मिलेगा। इसके साथ ही, देर से आई सर्दी ने पिछले 13 सालों का रिकॉर्ड (13 Years Record) तोड़ दिया है।

बारिश और बर्फबारी के आसार

पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा, और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में 3 फरवरी तक हल्की से मध्यम बारिश के आसार बने रहेंगे। हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) और पंजाब में तेज हवाओं (Strong Winds) के साथ बौछारें पड़ने की भी संभावना है।

पहाड़ों पर बर्फबारी का दौर

पहाड़ों पर बर्फबारी का दौर शुरू हो चुका है, जिससे उत्तरी पहाड़ों (Northern Hills) पर सीजन की पहली बर्फबारी (First Snowfall of the Season) देखने को मिल रही है। स्काईमेट (Skymet) के अनुसार, अगले कुछ दिनों में बर्फबारी और बारिश की तीव्रता में वृद्धि होगी।

आगामी दिनों में मौसम की गतिविधियां

3 फरवरी से शुरू होने वाले दूसरे पश्चिमी विक्षोभ (Second Western Disturbance) के चलते उत्तर भारत में मौसम की गतिविधियों में तेजी आएगी। इसके प्रभाव से पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश की संभावना है।