home page

एमरजेंसी में बिना टिकट ही ट्रेन में चढ़ना पड़ जाए तो क्या होगा, इस तरीके को अपना लेंगे तो TTE नही लेगा जुर्माना

भारत में ट्रेन यात्रा करते समय अक्सर यात्रियों के मन में कई प्रश्न उठते हैं। खासकर जब बात आती है बिना टिकट के यात्रा करने की तो कई बार लोगों को समस्या हो जाती है।
 | 
emergency-can-you-travel-without-ticket
   

भारत में ट्रेन यात्रा करते समय अक्सर यात्रियों के मन में कई प्रश्न उठते हैं। खासकर जब बात आती है बिना टिकट के यात्रा करने की तो कई बार लोगों को समस्या हो जाती है। यदि आपके मन में भी ऐसे ही प्रश्न हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको ट्रेन टिकट के बारे में बताने जा रहे है.. 

बिना टिकट यात्रा के परिणाम

यदि आप बिना टिकट के ट्रेन में यात्रा कर रहे हैं तो इसे भारतीय रेलवे कानून के अनुसार अवैध माना जाता है। बिना टिकट यात्रा करना एक दंडनीय अपराध है जिसके लिए आपको जुर्माना देना पड़ सकता है। अगर आपको टीटीई द्वारा बिना टिकट पकड़ा जाता है, तो आपसे न केवल जुर्माना वसूला जाएगा बल्कि आपको उसी जगह पर उतारा भी जा सकता है।

इमरजेंसी में ट्रेन यात्रा के ऑप्शन 

यदि आपको अचानक कहीं जाने की जरूरत पड़ती है और टिकट नहीं मिल पाता तो आप प्लेटफॉर्म टिकट का उपयोग कर सकते हैं। प्लेटफॉर्म टिकट लेने के बाद आपको ट्रेन में टीटीई से मिलना चाहिए और उन्हें अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। टीटीई आपको उपलब्ध सीट पर बैठने की अनुमति दे सकता है और यात्रा के लिए आवश्यक टिकट जारी कर सकता है।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

जुर्माना और उसके नियम

यदि टीटीई आपको बिना टिकट के पाता है, तो आपको न केवल जुर्माना देना पड़ सकता है बल्कि उस स्टेशन से जहां आप चढ़े हैं लेकर अपने गंतव्य तक का पूरा किराया भी देना पड़ सकता है। आमतौर पर यह जुर्माना ₹250 के आसपास होता है जो कि टिकट के मूल्य से काफी अधिक है।

यह भी पढ़ें; मैदान में मजे से घास खा रही भैंसे पर शेर ने बोल दिया धावा, उसके बाद शेर को उल्लू बनाकर भैंसा हो गया फरार

ऑनलाइन टिकट बुकिंग की सुविधा

आजकल रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए ऑनलाइन टिकट बुकिंग की व्यवस्था को और भी सुगम बना दिया है। आप UTS ऐप के जरिए अनारक्षित टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट भी प्राप्त कर सकते हैं। इस ऐप का उपयोग करके आप आसानी से टिकट प्राप्त कर सकते हैं और अपनी यात्रा को और भी सुविधाजनक बना सकते हैं।