home page

आगरा, बुंदेलखंड व पूर्वांचल एक्सप्रेसवे सफर करते वक्त ये नंबर कर ले सेव, प्रॉब्लम आते ही लगा दिया फोन तो मिलेगी तुरंत मदद

उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे पर यात्रियों की सहूलियत और सुरक्षा के लिए उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी (Uttar Pradesh Expressways Industrial Development Authority - UPEIDA) ने एक नवीन पहल की है।
 | 
Helpline on Expressway

उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे पर यात्रियों की सहूलियत (Convenience) और सुरक्षा (Safety) के लिए उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी (Uttar Pradesh Expressways Industrial Development Authority - UPEIDA) ने एक नवीन पहल की है।

एक नए हेल्पलाइन नंबर-14449 (Helpline Number) को जारी कर यात्रा के दौरान किसी भी आपात स्थिति (Emergency Situation) में तत्काल मदद प्रदान करने का वादा किया है।

आसानी से याद रखने योग्य नंबर

इस नए नंबर को याद रखने में आसानी (Ease of Remembering) के लिए तैयार किया गया है, जो आगरा एक्सप्रेसवे (Agra Expressway), बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे (Bundelkhand Expressway), और पूर्वांचल एक्सप्रेसवे (Purvanchal Expressway) के लिए प्रभावी होगा।

यह नंबर एकीकृत नियंत्रण कक्ष (Integrated Control Room) से जुड़ा है, जो तीनों एक्सप्रेसवे को एक साथ नियंत्रित करेगा।

आधुनिक संचार उपकरणों का उपयोग

इस नए सेंटर में आधुनिक संचार उपकरण (Modern Communication Equipment) लगाए गए हैं, जो हादसे की सूचना मिलने पर तत्काल क्रेन (Crane), एंबुलेंस (Ambulance), पुलिस सेवा (Police Service), रेस्क्यू (Rescue) और राहत (Relief) पहुंचाने में सक्षम होंगे। इससे दुर्घटना (Accident) के परिणामों को तत्काल और प्रभावी ढंग से संभालने में मदद मिलेगी।

नागरिकों से फीडबैक की प्रक्रिया

यूपीडा के अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी, श्रीहरि प्रताप शाही के निर्देशों के बाद, यह सुनिश्चित किया गया है कि हर दुर्घटना की जानकारी इस नए नंबर पर दर्ज होगी। इस प्रक्रिया में, हर शिकायत (Complaint) पर नागरिकों से फीडबैक (Feedback) लिया जाएगा, जिससे सेवाओं में सुधार और नागरिक संतुष्टि (Citizen Satisfaction) में वृद्धि होगी।

सुरक्षित यात्रा की ओर एक कदम

इस नए हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत से यूपी के एक्सप्रेसवे पर यात्रा करने वाले नागरिकों को अधिक सुरक्षित और सहूलियत भरी यात्रा का अनुभव (Travel Experience) होगा।

इस पहल से आपात स्थितियों में तत्काल मदद प्रदान करने की दिशा में एक मजबूत कदम उठाया गया है, जो यूपी के एक्सप्रेसवे को और भी सुरक्षित और विश्वसनीय बनाएगा।